किसानों से गद्दारी -पूंजीपतियों से वफादारी नही चलेगा, पार्टी संगठन को विस्तार व किसान आंदोलन को धारावाहिक चलाने का लिया गया फैसला: माले

0

परवेज अख्तर/सिवान:
भाकपा माले जिला कार्यालय खुरमाबाद, सिवान में जिले के तमाम पार्टी प्रखण्ड सचिव व किसान महासभा का जिला कमिटी का सयुक्त बैठक किया गया ।बैठक का नेतृत्व पार्टी जिला सचिव हँसनाथ राम ने किया , बैठक में केंद्रीय कमिटी सदस्य नैमुदिन आंसारी , दरौली विधायक सत्यादेव राम , किसान महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक अमरनाथ यादव ,एपवा जिला सचिव सोहिला गुप्ता, सहित किसान महा सभा के जिला सचिव जयनाथ यादव व अध्यक्ष शीतल पासवान सहित सभी लोग उपस्थित हुये।बैठक में जिला सचिव हँसनाथ राम ने कहा कि देश मे जिस तरह सामंती साम्प्रदायिक फासीवादी ताकते संविधान व लोकतंत्र को खत्म व सरकार की सभी सम्पति निजीकरण कर रही है ऐसे माहौल में बिहार विधान सभा चुनाव में भाकपा माले के 12 विधायक जो जीते है गरीब मजदूर किसानों ,छात्रों नौजवानों महिलाओं के संघर्ष का प्रतीक है इस लिए गांव-गांव में सदस्यता भर्ती शाखा निमार्ण व जो भी पार्टी का लक्ष्य है समय सीमा पर उसे पूरा करने का निर्णय लिया गया ।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

साथ ही पंचायती चुनाव में मजबूती से हस्तक्षेप करने का भी फैसला लिया गया ।किसान महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्व विधायक अमरनाथ यादव ने कहा कि एक माह से ज्यादा हो गया इस ठंड के मौसम में किसान दिल्ली में जमे हुए है।लेकिन यह असंवेदनशील सरकार सुन नही रही है ।बच्चा-खुचा जो भी खेत- खेती किसानी है उसे भी कारपोरेट के हवाले कर रही है,किसानों के पक्ष में व कृषि बिल विजली वापस को लेकर पूरे देश मे आंदोलन फैलाया जा रहा है। इस कड़ी में पूरे बिहार में पार्टी व किसान महासभा के तरफ से 5 जनवरी से सिवान अम्बेडकर पार्क में अनिश्चित कालीन धरना का आयोजन किया जा रहा है।जब तक कृषि बिल व विजली बिल वापस नही होगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा।जयनाथ यादव व शीतल पासवान ने कहा कि किसानों का कमर तोड़ने व गुलामी बर्दास्त नही होगा।गांव गांव के किसानों में आक्रोश है।नैमुदिन अंसारी ने कहा कि इंसाफ की बात बोलने वाले भाजपा इंसाफ की गला घोंट रही है,हर तबका इससे परेशानी है ।दरौली विधायक सत्यादेव राम ने कहा कि किसानों के साथ साथ मजदूर भी सड़क पर उतरने का मजबूर है ।तमाम नेताओ ने मांग किया अबिलम्ब तीनो कृषि बिल व बिजली विल सरकार वापस ले अन्यथा पूरे देश जन आंदोलन में तब्दील हो जाएगा।

आवेदक -प्रदीप कुशवाहा कार्यालय सचिव भाकपा माले सिवान