मैरवा: नहर का पानी ओवरफ्लो, पांच गांव के चंवर में धान की फसल डूबी

0
dhan

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के मैरवा प्रखंड क्षेत्र से गुजर रही लक्ष्मीपुर जलवाहा की सफाई न होने से सेवतापुर समेत पांच गांव के चंवर में लगा धान नहर के पानी से डूब गया है. सेवतापुर में नहर का पानी ओवरफ्लो कर चंवर में प्रवेश कर गया है. फसल बर्बाद होता देख शनिवार को किसान आक्रोशित हो गए. सेवतापुर में एकत्रित होकर किसानों ने सिचाई विभाग के खिलाफ नारेबाजी की. जिलाधिकारी और सिचाई विभाग के कार्यपालक अभियंता तथा मुख्य अभियंता को शिकायत पत्र भेजकर वस्तु स्थिति से अवगत कराया. किसानों का कहना है कि नहर पक्कीकरण कार्य अधूरा पड़ा है. सेवतापुर में नहर पक्कीकरण कर छोड़ दिया गया है. आगे के नहर और लक्ष्मीपुर जलवाहा की सफाई नहीं कराई गई है. इसके कारण सेवतापुर में नहर का पानी आगे नहीं बढ़ रहा है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

नहर का पानी ओवरफ्लो होकर चंवर में प्रवेश कर गया है. कबीरपुर, डोमडीह, सेवतापुर, अटवां और लक्ष्मीपुर गांव के चंवर में लगी धान की फसल नहर के पानी में डूब गई है. किसानों का कहना है कि पहले लक्ष्मीपुर जलवाहा की सफाई की जाती थी. पानी सेवतापुर खांड़ से होकर सुखनर की तरफ चला जाता था, लेकिन जलवा की सफाई न होने से नहर का पानी आगे की तरफ नहीं बढ़ रहा है और ओवरफ्लो होकर चंवर में एकत्रित हो रहा है. किसानों की चिता है कि अगर सिंचाई विभाग ने शीघ्र कोई कदम नहीं उठाया तो उनकी फसल बर्बाद हो जाएगी और आर्थिक क्षति होगी. किसानों ने मांग की है कि लक्ष्मीपुर जलवाहा की सफाई कराई जाए और अगर ऐसा संभव नहीं है तो नहर में पानी की आपूर्ति बंद की जाए है. मांग करने वालो में देवी सिंह, राजेंद्र सिंह, साधु शरण सिंह, सत्यप्रकाश गोड़, ब्रह्मानंद तिवारी, अनवर अंसारी, परशुराम भगत, सुभाष सिंह, वीरेंद्र सिंह, लखन कुमार, रंग बहादुर मिश्रा आदि शामिल हैं।