मैरवा: इंग्लिश शाखा के पीएनबी में विलय पर ग्राहकों ने किया विरोध-प्रदर्शन

0
virodh
  • शुरूआत में युनाईटेड के ग्रामीण शाखा होने को लेकर मर्ज नहीं किया गया, दोनों शाखा अपने भवन में कार्य कर रहे थे
  • ग्रामीण क्षेत्र की शाखा का नगर क्षेत्र की शाखा में विलय का विरोध
  • पीएनबी में मर्ज होने से अरबन एरिया चार्ज लागू होने की आशंका
  • 04 बैंक में लगभग आठ बैंक को मर्ज किया गया है
  • 01 भवन में सुरक्षा कारण से 15 साल से संचालित

परवेज अख्तर/सिवान: यूनाईटेड बैंक की इंग्लिश शाखा के पंजाब नेशनल बैंक में विलय को लेकर ग्राहकों ने विरोध जताया है। गुरुवार को बैंक की शाखा के सामने नारेबाजी और प्रदर्शन किया। इंग्लिश गांव के ग्रामीण नगर क्षेत्र के पीएनबी में मर्ज करने को लेकर नाराज थे। ग्रामीण इस शाखा को पंचायत के क्षेत्र में खोलने की मांग कर रहे थे। दोनों बैंक के मर्जर के कई माह बाद यूनाईटेड बैंक की इस शाखा के पीएनबी में विलय किये जाने पर लोग सवाल उठा रहे थे। विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोग ग्रामीण क्षेत्र की शाखा के पीएनबी के नगर क्षेत्र में मर्ज होने से अरबन एरिया के चार्ज लागू होने और सुविधा में कटौती होने को लेकर आशंकित हैं। हालांकि यूनाईटेड बैंक के इंगलिश गांव की शाखा भी नगर के मझौली चौक पर एक भवन में सुरक्षा कारण से लगभग 15 साल से संचालित हो रही है। बैंक में सबसे ज्यादा इंग्लिश पंचायत क्षेत्र के ग्राहक का खाता खुला हुआ है। यूनाईटेड बैंक की शाखा लगभग दो दशक पूर्व इंग्लिश गांव के लिए खुली थी। इस गांव के सैकड़ों लोग विदेश में काम करते हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

एनआरआई ग्राहकों को लेकर बैंक द्वारा शाखा खोलने की बात बतायी जा रही है। केन्द्र सरकार द्वारा चार बैंक में लगभग आठ बैंक को मर्ज किया गया है। पीएनबी में यूनाईटेड का विलय किया गया है। दोनों बैंक की अलग-अलग शाखा को लेकर मर्जर में उहांपोह की स्थिति बनी हुई थी। एक जून से सभी बैंक एक दूसरे में मर्ज होकर काम कर रहे थे, लेकिन दोनों शाखा सुचारू रूप से काम कर रहे थे। यूनाईटेड के इंग्लिश शाखा और पीएनबी के नगर ब्रांच लगभग सौ मीटर की दूरी पर बने भवन में कार्यरत हैं। शुरूआत में युनाईटेड के ग्रामीण शाखा होने को लेकर मर्ज नहीं किया गया। दोनों शाखा अपने भवन में कार्य कर रहे थे। ग्रामीण भी पीएनबी में मर्ज होने के बाद शाखा के गांव में खुलने की उम्मीद कर रहे थे। कुछ दिन पूर्व बैंक की शाखा के बंद होने की सूचना पर ग्रामीण बैंक परिसर में पहुंचे थे। मौके पर राजेंद्र सिंह, मदन सिंह, संतोष, सोनू, आलोक सिंह थे।