प्रवासियों को दी जाएगी परिवार नियोजन की जानकारी

0
jagruk
  • कोरोना वायरस के साथ-साथ परिवार नियोजन के बारे में भी जागरूक करेंगी आशा
  • इच्छुक लाभार्थियों को दी जाएगी अस्थाई सुविधा
  • एसीएमओ ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को जारी किया निर्देश

गोपालगंज:- वैश्विक महामारी कोरोनावायरस को लेकर पूरे देश में लॉक डाउन लागू किया गया है । ऐसे स्थिति में काफी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने घर को लौटे हैं। इसको देखते हुए प्रवासियों को परिवार नियोजन के संबंधित जानकारी देने के लिए जागरूकता अभियान चलाने का स्वास्थ्य विभाग ने फैसला लिया है । इसको लेकर गोपालगंज के अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ एके चौधरी ने जिले के सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को पत्र लिखकर निर्देश दिया है। अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कोरोना वायरस को लेकर प्रवासी लाभार्थी बड़ी संख्या में अपने घर वापस आए हैं इस समय परिवार नियोजन सेवाओं के बारे में प्रचार प्रसार कर संबंधित लाभार्थियों को इच्छा अनुसार परिवार नियोजन सेवाओं के अस्थाई सेवा की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सकती है। उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि मिशन परिवार विकास अभियान के सफल संचालन एवं जन जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए परिवार नियोजन के साधनों की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए तथा लाभार्थियों के बीच वितरण कराया जाए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

आशा और एन एम घर-घर जाकर देंगे जानकारी

आशा और एएनएम द्वारा कोरोना के संदिग्ध मरीजों की खोज तथा कोविड-19 के संबंध में जागरूकता हेतु गृह भ्रमण का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में यह निर्देश दिया गया है कि आशा व एएनएम के माध्यम से योग दंपतियों के साथ-साथ घर वापस आए प्रवासी लाभार्थियों को परिवार नियोजन सेवाओं के बारे में जागरूक किया जाए। साथ ही प्रवासी लाभार्थियों के बीच परिवार नियोजन के अस्थाई सेवाओं के तहत गर्भनिरोधक वितरण किया जाए।

स्वास्थ्य संस्थानों में साधनों की उपलब्धता

एसीएमओ डॉ एके चौधरी ने निर्देश दिया है कि वैसे सभी संस्थान जहां संस्थागत प्रसव हो रहे हैं। वहां पर लाभार्थियों को काउंसलिंग करते हुए इच्छानुसार प्रसवोपरांत कॉपर-टी की सुविधा प्रदान की जाए। अनिवार्य रूप से परिवार नियोजन के अस्थाई साधन आपके संस्थान एएनएम एवं आशा के पास उपलब्ध होना चाहिए। एसीएमओ ने निर्देश दिया है कि सभी कंडोम बॉक्स में नियमित रूप से कंडोम रिफिलिंग होना चाहिए। जिससे कंडोम बॉक्स में कंडोम उपलब्ध रहे। जिला भंडारण में परिवार नियोजन के सभी अस्थाई साधन उपलब्ध है। सूची के अनुसार एफ़पीएलएमआईएस पोर्टल पर इनडेट करते हुए जल्द से जल्द साधनों का उठाव सुनिश्चित करें।

केयर इंडिया की भूमिका अहम

परिवार कल्याण कार्यक्रम को सफल बनाने में केयर इंडिया की टीम का भूमिका अहम है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए एएनएम व आशा कार्यकर्ताओं को केयर इंडिया के टीम द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है। केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार ने बताया कि सभी प्रखंडो में बीएम- बीएचएम व बीसीएम के माध्यम से एएनएम व आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ताकि इस अभियान का शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया जा सके।