मॉर्निंग वाक में निकले लापता प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर सकुशल लौटे घर, परिजनों में खुशी का माहौल

0
javed
  • दिमागी हालत ठीक न होने के कारण टहलते हुए निकल पड़े थे प्रधानाध्यापक मैरवा
  • उत्क्रमित मध्य विद्यालय महुआरी के है प्रधानाध्यापक
  • बड़े पुत्र फारूक जावेद ने स्थानीय थाने में गुमशुदगी से संबंधित दिया था आवेदन
  • पुलिस द्वारा अभी जांच कर प्राथमिकी की कर रही थी तैयारी ,तब तक मध्य रात्रि सकुशल लौटे प्रधानाध्यापक

परवेज अख्तर/सिवान:- रविवार की अल सुबह मॉर्निंग वॉक में निकले लापता प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर रविवार की मध्य रात्रि सकुशल अपने घर लौट आए उनके लौट आते ही परिजनों में काफी खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। यहां बताते चले कि जिला मुख्यालय स्थित गांधी मैदान में प्रत्येक दिन की भांति रविवार की अहले सुबह नगर थाना क्षेत्र के नया बाजार पोखरा निवासी सह पचरुखी प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय महुआरी के प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर (48 वर्ष) घर से बोल कर टहलने निकले हुए थे।

विज्ञापन
aliahmad
vigyapann
vig
web designing

लेकिन रविवार की देर रात्रि तक वह घर नहीं पहुंचे।घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उनकी तलाश शुरू कर दी।काफी खोजबीन के बाद उनका कहीं सुराग नहीं लगने से प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर के बड़े पुत्र फारूक जावेद ने स्थानीय थाने को लिखित रूप से सूचना दे दी थी।पुलिस,आवेदन प्राप्त होते ही छानबीन में लगी हुई थी कि इसी बीच रविवार की मध्य रात्रि लापता प्रधानाध्यापक सकुशल अपने घर लौट आए। लापता प्रधानाध्यापक के सकुशल घर लौट आ जाने के बाद उनके शोकाकुल पत्नी सुल्ताना यासमीन पुत्रों में क्रमशः फारुख जावेद,वासिफ जावेद तथा कासिफ जावेद समेत परिवार के सभी सदस्यों तथा रिश्तेदारों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है।

यहां बताते चलें कि प्रधानाध्यापक के अचानक लापता हो जाने के कारण पूरा परिवार समेत उनके सभी रिश्तेदार काफी चिंतित थे।उनको तरह-तरह की चिंता सता रही थी।बार-बार उनके परिजन उनके मोबाइल फोन कर रहे थे।लेकिन उनका मोबाइल स्विच ऑफ होने के कारण परिजनों की बेचैनी और बढ़ती जा रही थी। लेकिन इसी बीच रविवार की मध्य रात्रि वह सकुशल अपने घर को लौट आए। इस संबंध में प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर ने बताया कि प्रत्येक दिन की भांति मैं रविवार की अल सुबह जिला मुख्यालय के गांधी मैदान में मॉर्निंग वॉक के लिए निकला हुआ था। कि हमारी दिमागी हालत खराब हो गई तथा मैं टहलते हुए मैरवा चला गया।

मैरवा पहुँचने के बाद जब मैं होश हवास में आया तो देखा कि मैं कहां चला आया हूं। पूर्ण रूप से होश हवास में आने के बाद रविवार की मध्य रात्रि में,मैं अपने घर को लौट आया।उन्होंने बताया कि मेरे साथ कोई अनहोनी घटना नहीं घटित हुई थी। इस संबंध में पूछे जाने पर नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित ने बताया कि लापता प्रधानाध्यापक के बड़े पुत्र फारूक जावेद के द्वारा दी गई आवेदन पर अभी पुलिस जांच ही कर रही थी कि रविवार की मध्य रात्रि लापता प्रधानाध्यापक जावेद अख्तर सकुशल अपने घर लौट आए।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here