बिहार में मॉब लिंचिंग: भैंस चोरी के आरोप में भीड़ ने लाठी-डंडे से पीट युवक को मार डाला, दूसरे की हालत गंभीर

0

पटना: सहरसा जिले के सोनवर्षा थाना क्षेत्र के अमृता गांव में चोरी के आरोप में भीड़ ने एक युवक की लाठी-डंडे से पिटाई कर बेरहमी से मार डाला। घटना रविवार देर रात की है। मृतक की पहचान पतरघट ओपी क्षेत्र के करिअत गांव निवासी रुपेश पासवान (26) के रूप में हुई है। जबकि सोनवर्षाराज के अमृता गांव निवासी जस्सी यादव गंभीर रुप से जख्मी है। उसका सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

बरैठ पंचायत के अमृता गांव निवासी पशुपालक मधुसूदन ऋषिदेव बीते रात घर के सामने सड़क किनारे अपने तीन भैसों को बांध कर बगल के मचान पर सोया हुआ था। रात 12 बजे के करीब मधुसूदन की नींद खुली तो मवेशी को नहीं देख अपने पूरे परिवार सहित ग्रामीणों के साथ मवेशी की खोजबीन करने लगे। तब तक घटना की जानकारी ग्रामीणों को भी हो गई। इसी दौरान ग्रामीणों ने दोनों को पकड़ कर लाया। उस पर चोरी का आरोप लगाते हुए लाठी डंडे से जमकर पिटाई करने लगे।

पिटाई से रुपेश की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि गंभीर रुप से जख्मी जस्सी कुमार को इलाज के लिए सोनवर्षा पीएचसी लाया गया वहां से उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। स्थानीय लोगों के मुताबिक दोनों ने भैंस चोरी की बात कबूल करते बेचने की बात कही। जिसके बाद लोग आक्रोशित हो उठे और पिटाई शुरु कर दी। वहीं, जख्मी युवक ने बताया कि हम दोनों को नवटोलिया के पास ग्रामीणों ने पकड़ लिया और पिटाई शुरु कर दी है। पिटाई के दौरान ही रुपेश की मौत हो गई।

सोनवर्षा थानाध्यक्ष सुनील कुमार भगत ने कहा कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। जख्मी का बयान लेकर कार्रवाई की जाएगी। इस बाबत सिमरीबख्तियारपुर एसडीपीओ इम्तियाज अहमद ने बताया कि भैस चोरी के आरोप में ग्रामीणों की पिटाई से एक युवक की मौत हुई है। दूसरा जख्मी है जिसका इलाज चल रहा है।