मोबाइल के विवाद में वृद्ध की ईंट से पीटकर हत्या

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के बड़हरिया थाना क्षेत्र के औराई मौजा गांव में सोमवार की रात करीब आठ बजे महज एक मोबाइल को लेकर हुए विवाद में दबंगों ने एक वृद्ध को ईंट से पीटकर हत्या कर दी। मृतक की शिनाख्त गांव के ही औराई निवासी 62 वर्षीय रामदास साह के रूप में हुई। मामले की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई मौके पर पहुंच कर रामदास के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मामले में बताया जाता है कि रामदास साह के मोबाइल को उनकी पोती सुनीता से शिवकुमार साह के पुत्र सोहन कुमार साह ने सोमवार की रात करीब साढ़े सात बजे चोरी कर लिया। इसको लेकर रामदास साह जब पूछने के लिए शिव कुमार के घर गए तो शिव कुमार साह की पत्नी राधिका देवी और उसकी बेटी और बेटा आगबबूला हो गए और रामदास की पिटाई करने लगे। रामदास किसी तरह भागते हुए अपने घर पर आए, जहां उक्त सभी लोग पहुंच गए और रामदास की ईंट पत्थर से पिटाई करने लगे। दादा को बचाने उनकी पोती तथा पतोह आई तो उन लोगों की भी मारपीट कर घायल कर दिया गया। इस दौरान रामदास के सिर पर ईंट से वार करने से रामदास साह की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष मुकेश कुमारदल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। इस मामले में मृतक के पतोह सुनैना देवी के आवेदन पर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसमें राधिका देवी, सोहन, प्रियंका कुमारी को आरोपित किया गया है। थानाध्यक्ष ने त्वरित कार्रवाई करते हुए राधिका देवी को गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दिया। वहीं पोस्टमार्टम के बाद शव का दाह संस्कार कर दिया गया। मृतक को तीन पुत्री सवना देवी, सुगंती देवी, रूपा देवी और एक पुत्र ललन साह हैं। ललन साह तीन माह पहले कमाने के उद्देश्य से विदेश गया है। घटना के बाद गांव में शोक का माहौल है। रामदास साह की पुत्री की मौत पहले हो चुकी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचते ही मचा कोहराम

बड़हरिया थाना क्षेत्र के औराई मौजे गांव में मोबाइल को ले हुई रामदास साह की हत्या के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद जब रामदास साह का शव पहुंचा तो पतोह सुनैना देवी, पोती, पुत्री समेत अन्य परिजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। पतोह सुनैना देवी, बेटी सवना देवी, सुगंती देवी, रूप देवी, पोती अनीता कुमारी, सुनीता कुमार दहाड़ मारकर रोने लगी। वहीं उपस्थित ग्रामीण परिजनों को सांत्वना दे रहे थे। रोते हुए बच्चों को देख वे अपने आंखों सेआंसू नहीं रोक पा रहे थे। मृतक का एक पुत्र ललन साह कमाने के लिए तीन माह पूर्व अरब चला गया है। ललन साह परिवार की तंगी हालत को दूर करने के लिए अरब गया है। मृतक रामदरस साह गांव में मजदूरी कर परिवार का खर्च चलाता था।