अज्ञात शव को ज्ञात करने तीन माह बाद पहुंची मुफ्फसिल थाने की पुलिस

0
mufasil thana

23 अप्रैल को हुई थी गोली मार हत्या

चौकीदार के बयान पर दर्ज कराई गई थी हत्या की प्राथमिकी

परवेज़ अख्तर/सिवान:- जिले के मुफ्फसिल थाने की पुलिस अज्ञात शव को ज्ञात करने करीब  तीन माह बाद पहुंची और अस्पताल प्रशासन को नाम एवं पता का रजिस्टर में शुद्धिकरण करने के लिए आवेदन मंगलवार को सौंपी। बता दें कि मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के खुर्माबाद ललित बस स्टैंड के पास अग्रवाल पेट्रोल पंप के सामने विगत 23 अप्रैल 2018 की अल सुबह एक 40 वर्षीय व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस टीम ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया था। शव बरामदगी के बाद शव की शिनाख्त नहीं हो सकी थी, इसलिए पुलिस ने 40 वर्षीय अज्ञात व्यक्ति का जिक्र करते हुए बरामद शव का पोस्टमार्टम कराई और 72 घंटे बीत जाने के बाद पुलिस ने महादेवा स्थित श्मशान घाट में दाह संस्कार भी कर दिया। इस घटना को लेकर पुलिस ने मुफ्फसिल थाने के जियांय निवासी धर्मदेव चौधरी के पुत्र चौकीदार रामनाथ यादव के बयान पर प्राथमिकी थाना कांड सं. 210/18 धारा 302/34 भादवि के अंतर्गत अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की थी। बाद में बरामद शव की पहचान मोतिहारी जिले के रक्सौल थाना क्षेत्र के नैका टोला गांव निवासी विश्वनाथ यादव के पुत्र राज कुमार राज के रूप में की गई है। मृतक जिले के एक आशीर्वाद फाइनेंस कंपनी में लगभग दो माह से कार्यरत था। बहरहाल मामला चाहे जो हो पुलिस इस घटना को एक चुनौती के रूप में लेते हुए गहराई पूर्वक अनुसंधान में जुट गई है। पुलिस इस कांड में कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की तथा पुलिस  इस घटना घटना में खुर्माबाद के एक युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। पुलिस का कहना है कि अनुसंधान में तेजी लाने के कारण अज्ञात शव को ज्ञात करने में कानूनन रूप से तेजी लाई जा रही है ताकि केश डायरी पुलिस को लिखने में मदद मिल सके। बता दें कि इस हत्याकांड को पुलिस इसलिए चुनौती के रूप में ले रही है कि यह घटना एसपी नवीनचंद्र झा एवं  एएसपी कांतेश मिश्रा एवं मुफ्फसिल थाना से
कुछ ही दूरी पर हुई थी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM