संदेहास्पद स्थिति में मायके आई मां-बेटी का शव तालाब से बरामद, सनसनी

0
Dead body in a mortuary

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के भगवानपुर हाट स्थानीय थाना क्षेत्र के बड़कागांव में शुक्रवार की अल सुबह गांव के तालाब से मायके आई एक विवाहिता का शव उसकी डेढ़ वर्षीय पुत्री के साथ पाया गया। सुबह तालाब में शव ऊपलाया देख गांव के लोगों में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों ने दोनों के शव को तालाब से निकाला। वहीं तालाब से गांव वालों ने महिला के पांच वर्षीय दूसरे बच्चे को गंभीर हालत में तालाब से निकाला और उसे इलाज के लिए किसी निजी क्लीनिक में भर्ती कराया। शव की पहचान गांव के ईश्वर मांझी की विवाहिता पुत्री झुनकी देवी (27) एवं उसकी डेढ़ वर्षीय पुत्री सीता कुमारी के रूप में की गई है। मामला संदेहास्पद देख किसी ने कुछ भी नहीं बताया। जबकि घटना स्थल पर मौजूद लोगों के बीच तरह तरह की चर्चा आम थी। कुछ ग्रामीणों ने तो इसे आत्महत्या करार दिया, तो कुछ ने पारिवारिक कलह से तंग आकर दोनों बच्चों संग तालाब में डूबने की बात कही। जबकि कुछ ग्रामीणों ने मृत महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने की भी बात बताई। ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय थाने को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। फिलहाल मामले में पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है। मामले में मृतका के पिता ईश्वर मांझी ने बताया कि उन्होंने अपनी पुत्री झुन्नकी देवी की शादी पांच वर्ष पूर्व गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर थाना के सबुली गांव निवासी शिवपूजन मांझी के पुत्र चंदनमांझी के साथ की थी। उसकी पुत्री अपने दो माह पूर्व अपनी पुत्री सीता कुमारी के साथ मायके आई थी। दो दिन पूर्व से ही झुनकी देवी का पति और उसका ससुर यहां थे और उसे अपने संग लेने आए थे। शुक्रवार की सुबह वह अपने बच्चों के संग शौच को गई थी, थोड़ी देर बाद गांव के लोगों ने बताया कि उसका शव उसकी डेढ़ वर्षीय बच्ची के साथ तालाब से पाया गया है। जबकि उसका पांच वर्षीय पुत्र गंभीर रूप से इलाजरत है। इस घटना को ले गांव में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। स्थानीय मुखिया इंद्रावती देवी द्वारा मृतका झुनकी के पिता ईश्वर मांझी को तत्काल तीन हजार रुपया प्रदान किया गया है। ग्रामीण सत्येंद्र राम ने बताया कि मामला संदेहास्पद है। मृतका के पति एवं ससुर दो दिन से यहीं थे। वह दोनों उसे बुलाने आए थे। इस घटना के मृतक की मां समेत अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं परिजन पीड़ित परिजन को सांत्वना दे रहे थे। मृतका की मां ने बताया कि उनकी बेटी मंदबुद्धि की थी। खबर प्रेषण तक इस मामले में किसी पर प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई थी। घटना के बाद से क्षेत्र में चर्चाओं का बाजार गर्म है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal