नौतन में सरकारी पोखरे को कब्जा करके बनाया संकीर्ण

0
pokhra

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के नौतन बाजार स्थित सरकारी पोखरे पर बाजार के ही कइ्र लोगों द्वारा मिट्टी भरकर कब्जा जमा लिया गया है। यहां तक कि पोखरे के चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा हुआ है। गंदगी के चलते आसपास लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। लोगों ने पोखरे की सफाई एवं सड़क निर्माण कराने को लेकर सीओ को हस्ताक्षरयुक्त आवेदन दिया है। नौतन बाजार का पोखरा गंदगी का पर्याय बन गया है। इससे आसपास के लोगों का सांस लेना कठिन हो गया है। लोगों का कहना है कि एक समय था जब राहगीर यहां आकर पोखरे में स्नान कर उसका पानी पी कर अपनी प्यास बुझाते थे। आसपास के पशु पक्षी पोखरे का पानी पिया करते थे। आज आलम यह है कि पोखरे का पानी गंदगी के अंबार के चलते दूषित हो गया है। एक तरफ जहां राज्य और केंद्र सरकार सफाई अभियान चला रही है। वहीं दूसरी तरफ नौतन का यह पोखरा संकीर्ण बन बीमारियों को निमंत्रण दे रहा है। पोखरे के समीप ही शनि देव का मंदिर भी है। जहां पहले लोग स्नान करने के पश्चात शनि देव की पूजा करते थे। शनि मंदिर में भी आने जाने के लिए रास्ता उपलब्ध नहीं है। जबकि पोखरे के भिंड के पास से 9 कड़ी का सरकारी मार्ग नक्शे में है। किंतु कुछ लोगों द्वारा रास्ते पर अतिक्रमण कर लिया गया है। दो वर्ष पूर्व में पोखरे की सफाई, सड़क निर्माण और अतिक्रमणमुक्त कराने के लिए सीओ को आवेदन दिया गया था। लेकिन दो सालों में भी यह कार्य अंजाम तक नहीं पहुंच सका है। बुधवार को एक बार पुनः व्यवसायियों ने मुखिया कृष्णा प्रसाद एवं सरपंच के साथ मिलकर पोखरे की सफाई कराने तथा शनि देव के मंदिर तक आने जाने वाली सरकारी सड़क का निर्माण कराने के लिए हस्ताक्षरयुक्त आवेदन दिया है। आवेदन देने वालों में चंदन जायसवाल, टुनटुन प्रसाद, दीपक कुमार प्रसाद व मुकेश कुमार शामिल हैं।

क्या कहते हैं सीओ

सीओ रवींद्र मिश्र ने बताया कि पोखरे के समीप मिट्टी भरने के काम पर रोक लगा दी गयी है। शीघ्र ही सरकारी पोखरे की पैमाइश एवं सफाई कराकर सड़क निर्माण के लिए आदेश पारित कर दिया जाएगा। अतिक्रमणकारियों को नोटिस भेजकर अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा। अतिक्रमणकारियों पर उचित कार्रवाई करते हुए जेसीबी से अतिक्रमण तोड़ा जाएगा।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here