छपरा: विधवा भाभी से देवर ने की शादी, सात फेरे के बाद परिजनों ने घर से निकाला

0

युवक ने समाज में एक अच्छी सोच की मिशाल कायम किया है

छपरा: जिले के मशरक थाना क्षेत्र के बंगरा पंचायत के हंसाफीर गांव में एक युवक ने समाज में अच्छी सोच की मिशाल को रखतें हुएं अपने मृत बड़े भाई की विधवा पत्नी से शादी किया पर परिजन शादी से नाखुश शादीशुदा पति-पत्नी को घर से बाहर निकाल दिया। मामले में दोनों पति पत्नी और 2 साल के बच्चे ने मशरक थाना पुलिस के पास पहुच अपनी फरियाद लगाई। मामले में थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने मामले में कारवाई करते हुए दोनों को तत्काल बगल के चाचा के घर प्रवेश दिलाया। वही दूसरे दिन ही बच्चे का कपड़ा मकान में जाकर निकालने जाने पर जमकर मारपीट की गई जिसमें पति और बचाने आई बहन भी घायल हो गई जिन्हें इलाज के लिए पीएचसी मशरक में भर्ती कराया गया जहां घायल की पहचान पप्पू कुमार पिता रामचंद्र राम और विवाहिता बहन बनियापुर थाना क्षेत्र के पिठौरी गांव निवासी संजय राम की पत्नी उर्मिला देवी के रूप में हुई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मामले में घायल बहन ने बताया कि उसको तीन भाई हैं बिनोद कुमार राम, धर्मेंद्र राम, पप्पू कुमार राम जिसमें सबसे छोटे भाई की शादी नही हुई है वही बड़े भाई धर्मेंद्र राम की शादी बीते तीन साल पहले सोनी कुमारी से हुई और बाद में भाई धर्मेंद्र कुमार की बीमारी के चलते मौत हो गई। मृत्यु होने के बाद विधवा पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा उसके सामने अपने दो साल के बेटे आर्या की परवरिश मुश्किल हो गयी।वही परिजनों ने छोटे भाई पप्पू की शादी तय करने लगें जिसका विरोध कर भाई पप्पू ने बीते महीने पहले विधवा भाभी सोनी से शादी कर ली जिसका परिवार वालों ने विरोध करना शुरू कर दिया और मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया जिसमें मामले में थाना पुलिस के पास न्याय की गुहार लगाई गई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चाचा के मकान में शरण दिलवायी।वही गुरूवार को बच्चे के कपड़े निकालने अपने घर में पप्पू गया था जिसके साथ मारपीट की गई और बचाने आयी बहन को भी मारपीट कर घायल कर दिया।मामले में थाना पुलिस को सूचना देकर न्याय की गुहार लगाई गयी है।