बढ़ते जन आक्रोश के सामने दब जाएगी नीतीश की वर्चुअल रैली : माले

0
male

परवेज़ अख्तर/सिवान:-  शहर के खुर्माबाद स्थित भाकपा जिला कार्यालय में शुक्रवार को भाकपा माले पोलित ब्यूरो के सदस्य सह जिला प्रभारी धीरेंद्र झा ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि अव्वल दर्जे की संवेदनहीनता व गैर जिम्मेदाराना रूख के खिलाफ आज हर तबके के भीतर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा के खिलाफ तीखा आक्रोश है। कोरोना काल में भी रोजी-रोटी, शिक्षा-परीक्षा-बहाली व नियमितीकरण को लेकर आंदोलन शुरु हो गया है। कोरोना की स्थिति लगातार विस्फोटक होती जा रही है और राज्य की चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था ने पूरी तरह दम तोड़ दिया है। ऐसा लगता है कि पूरे राज्य को भाजपा-जदयू ने मरने-खपने के लिए छोड़ दिया है और खुद वर्चुअल रैलियां करके बिहार चुनाव को जीत जाने का सपना देख रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

बताया कि डूबती अर्थव्यवस्था की सबसे ज्यादा मार किसानों और बेरोजगार नौजवानों पर पड़ रही है। लेकिन केंद्र व राज्य की सरकार बेफिक्र बनी हुई है। इन सवालों को लेकर 15 सितंबर को पूरे राज्य में समाहरणालय गेट पर मार्च किया जाएगा। बताया कि हमारी पार्टी महागठबंधन के साथ मिलकर जिले के पांच विधानसभा क्षेत्र सिवान सदर, जीरादेई, दरौली, रघुनाथपुर तथा दारौंदा में अपनी ताल ठोकेगी। मौके पर जिला सचिव हंसनाथ राम, पूर्व प्रत्याशी जयशंकर पड़ित समेत अन्य सदस्य मौजूद थे। वहीं दूसरी ओर रोजगार मांगे इंडिया के आह्वान पर आइसा कार्यकर्ताओं ने विरोध जताया। अपने संबोधन में आइसा नेता विकास यादव ने कहा कि इस कोरोना काल मे देश के करोड़ो नौजवान बेरोजगार हो गए है और मोदी सरकार रोजगार देने में बिल्कुल नाकाम रही है। मेक इन इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया पूरी तौर पर फेल हो गया है।