बसंतपुर में शिक्षकों को दिया गया गैर आवासीय प्रशिक्षण

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के बसंतपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित बीआरसी प्रशिक्षण हॉल में शुक्रवार को बिहार शिक्षा परियोजना समावेशी शिक्षा प्रभाग अंतर्गत सामान्य शिक्षकों का आरपीडब्लूडी एक्ट 2016 विषय पर आधारित तीन दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण शुरू हुआ। प्रशिक्षक मार्कंडेय पांडेय, संजीत कुमार, सत्येंद्र नारायण, प्रदीप कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान प्रशिक्षक मार्कंडेय पांडेय ने बताया कि 1995 में पीडब्लूडी एक्ट में सात प्रकार के दिव्यांगता का प्रावधान था, लेकिन आरपीडब्लूडी एक्ट 2016 के अनुसार दिव्यांगता के 21 प्रकार चिह्नित किए गए हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

प्रशिक्षण के दौरान शिक्षकों को बताया जाएगा कि वे ऐसे बच्चों की पहचान कैसे करें। पहचान के बाद उन्हें इसकी सूचना बीआरसी को देनी होगी, जिससे कि उन बच्चों को मुख्यधारा में लाकर उन्हें सरकारी सुविधाओं को उपलब्ध कराया जा सके। नए प्रावधान के अनुसार तेजाब पीड़ित, बौनापन, हेमिफिलया, थैलेसीमिया, बहु दिव्यांगता जैसे रोगों को दिव्यांगता की श्रेणी में रखा गया है। प्रशिक्षक ने बताया कि प्रशिक्षण तीन दिनों तक चलेगा। प्रशिक्षण अकुल मांझी, श्यामनारायण प्रसाद, आशा कुमारी, श्वेता कुमारी, विजय कुमार, राजकुमार, कामेंद्र बैठा, रविकांत कुमार, प्रभा सिंह, गीता कुमारी, प्रवीण कुमार सिंह आदि शामिल थे।