जिले में एक छटाक भी नहीं हो सकी गेहूं की खरीदारी

0

परवेज़ अख्तर/सीवान :- जिले में अभी तक गेहूं खरीदारी का कार्य नहीं शुरू हो पाया है। गेहूं खरीदारी के लिए विभाग द्वारा 30 जून तक तिथि निर्धारित है। ऐसे में शेष एक महीने में विभाग लक्ष्य को कैसे प्राप्त करेगा। गेहूं खरीदारी भी की जाती है, तो कहां रखा जाएगा। क्योंकि जिन छह गोदामों को गेहूं भंडारण के लिए चयनित किया गया है। उन सभी गोदामों में सीएमआर लेने का काम चल रहा है। इसके चलते ये गोदाम खाली नहीं है। खरीफ सीजन में खरीदे गए धान का सीएमआर लेने की तिथि 31 जुलाई तक निर्धारित है। प्रभारी डीएम विधुभूषण चौधरी की अध्यक्षता में 16 जुलाई को टास्क फोर्स की बैठक हुई थी। इसमें उन्होंने डीसीओ को अविलंब गेहूं खरीदारी का कार्य शुरू करने का निर्देश दिया था। गौरतलब हो कि किसानों से गेहूं खरीदारी के लिए न्यूनत्तम समर्थन मूल्य इसबार 17 सौ 35 रुपया प्रति क्वींटल निर्धारित किया गया है। जिले को गेहूं खरीदारी का लक्ष्य चार हजार एमटी लक्ष्य प्राप्त है।

तेरह व्यापार मंडल व छह पैक्स करेंगे गेहूं खरीदारी

जिले में इस बार गेहूं खरीदरी के लिए तेरह व्यापार मंडल व छह पैक्सों का चयन किया गया है। चयनित व्यापार मंडल व पैक्सों क अध्यक्षों से बात हुई तो उनलोगों का कहना है कि विभाग ने गेहूं के लिए अलग से सीसी लिमिट देने का काम अभीतक नहीं किया है। दूसरा यह बताया कि गेहूं खरीदारी कर कहां रखेंगे। गेहूं अगर खराब होगी तो इसके लिए कौन जिम्मेवार होगा।

क्या कहते है अधिकारी

डीसीओ सतेंद्र कुमार प्रसाद ने कहा कि सीसी लिमिट के लिए जो आवेदन दे रहे हैं, उनको दिया जा रहा है। बहुत लोगों के पास पहले से सीसी लिमिट है। उन्होंने कहा कि सीएमआर को लेकर गेहूं भंडारण की आनेवाले परेशानी को देखते हुए लंबित सीएमआर को गिराने के लिए मिलरों को निर्देश दिया जा रहा हैं।