33 अंचल अधिकारियों से स्पष्टीकरण का जवाब नहीं देने पर नोटिस

0
notice

परवेज़ अख्तर/सिवान:- सरजमीनी सेवाओं व दाखिल खारिज में लापरवाही के मामले में स्पष्टीकरण का जवाब न देने पर बिहार के 33 अंचलाधिकारियों को नोटिस एक माह पहले जारी स्पष्टीकरण का जवाब नहीं देने के बाद बिहार के 33 अंचलाधिकारियों को नोटिस जारी किया गया है। राजस्व व भूमि सुधार विभाग ने इनके खिलाफ कड़ा कदम उठाते हुए विभागीय कार्रवाई की चेतावनी दी है।राजस्व व भूमि सुधार विभाग के विशेष सचिव राधेश्याम साह ने इन आरोपित अंचलाधिकारियों के खिलाफ नोटिस जारी किया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

उन्होंने कहा है कि सरजमीनी सेवा व ऑनलाइन दाखिल खारिज में आपने लापरवाही बरती है। राज्य स्तरीय समीक्षा में इन 33 अंचलों का प्रदर्शन बेहद खराब पाया गया। प्रदर्शन खराब पाए जाने के बाद सभी 33 अंचलाधिकारियों को पिछले माह स्पष्टीकरण जारी किया गया। लेकिन किसी ने भी अब तक स्पष्टीकरण का जवाब नहीं दिया है। विशेष सचिव ने कहा है कि यदि दो दिनों के भीतर स्पष्टीकरण का जवाब नहीं मिलता है, तो समझा जाएगा कि इन्हें अपनी सफाई में कुछ नहीं कहना है और उसके बाद विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

इन अंचलाधिकारियों को नोटिस जारी

सीओ भोरे, गोपालगंज, सीओ चौगाई बक्सर, सीओ नावानगर बक्सर, सीओ साम्हो बेगूसराय, सीओ बगहा पश्चिमी चंपारण, सीओ भगवानपुर वैशाली, सीओ कटरा मुजफ्फरपुर, सीओ रहिका मधुबनी, सीओ मधेपुर मधुबनी, सीओ लौकाही मधुबनी, सीओ लदनिया मधुबनी, सीओ बेनीपट्टी मधुबनी, सीओ शंकरपुर मधेपुरा, सीओ मुरलीगंज मधेपुरा, सीओ मुरलीगंज मधेपुरा, सीओ सिंघवलिया गोपालगंज, सीओ कुमारखंड मधेपुरा, सीओ कोचस रोहतास, सीओ नौहट्टा सहरसा, तत्कालीन सीओ बाबुबरही मधुबनी, तत्कालीन सीओ बछवारा बेगूसराय, तत्कालीन सीओ पटेढ़ी बेलसर वैशाली, तत्कालीन सीओ चनपटिया पश्चिम चंपारण, तत्कालीन सीओ चांदन बांका, तत्कालीन सीओ बॉसी बांका, तत्कालीन सीओ चौसा मधेपुरा, तत्कालीन सीओ राजनगर मधुबनी, तत्कालीन सीओ भगवानपुर बेगूसराय, तत्कालीन सीओ उचका गांव गोपालगंज, तत्कालीन सीओ बेतिया पश्चिम चंपारण व तत्कालीन सीओ मुशहरी मुजफ्फरपुर।