आंदर थानाध्यक्ष ने दी चिकित्सा प्रभारी को जेल भेजने की धमकी

0
dhamki

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के आंदर- रघुनाथपुर मुख्य मार्ग पर हुए सड़क दुर्घटना में एक लड़के की मौत और एक के घायल होने के मामले में आंदर पीएचसी के चिकित्सा प्रभारी डॉ. डीएन सिंह को थानाध्यक्ष विनय कुमार ने जेल भेजने की धमकी देते हुए अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया। थानाध्यक्ष ने मृतक का नाम रजिस्टर में रजिस्ट्रेशन कर लेने की धमकी देते हुए चिकित्सक और सारे कर्मियों को जेल भेजने की धमकी दी है। थानाध्यक्ष ने यहां तक कहा कि यहां कर्मी कम हैं सबसे ज्यादा दलाल हैं। इस बात को लेकर घंटों तक अस्पताल पर हो हल्ला हुआ। बाद में किसी तरह मामला को शांत किया गया। इस सबंध में आंदर पीएचसी प्रभारी डॉ. डीएन सिंह ने बताया कि थानाध्यक्ष ने मेरे साथ पुलिसिया दबंगई किया है। मामला को बिना जाने हुए ही मुझे और मेरे कर्मियों को अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए जेल भेजने की धमकी दी है। दोनों घायलों को ग्रामीणों ने अस्पताल में इलाज के लिए लाए थे,जिसमें रंजीत चौहान की स्थिति नाजुक थी, इसलिए उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया और शर्मा चौहान का इलाज किया जा रहा था। इस पर थानाध्यक्ष ने कहा कि मृतक का नाम अपने रजिस्टर में दर्ज करें। मैंने कहा कि मृतक का नाम रजिस्ट्रेशन नहीं किया जाता है। इस पर थानाध्यक्ष द्वारा मेरे साथ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए जेल भेजने की धमकी दी गई। वहीं थानाध्यक्ष विनय कुमार ने बताया कि प्रभारी घायलों का नाम अपने रजिस्टर में रजिस्ट्रेशन नहीं कर रहे थे। इस बात को लेकर मैं पीएचसी प्रभारी से पूछने के लिए गया था। उन्होंने अभद्र व्यवहार की बात से इन्कार किया। उन्होंने कहाकि डॉक्टरों की शिकायत डीएम से करूंगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

बचपन से मामा के घर रहता था रंजीत

मैरवा के इंग्लिश निवासी हेमनारायण चौहान का पुत्र रंजीत चौहान आंदर थाना के अभिमनवा गांव में अपने मामा राजाराम के घर बचपन से ही रहता था। मामा के साथ रहकर उनके कामकाज में मदद करता था। वह अपने गांव कभी-कभार जाता था, ज्यादातर मामा के घर ही रहता था।
उसके मामा के लड़के की शादी थे। वह बरात जाने के लिए तैयारी कर रहा था। नया कपड़ा खरीदने अपने चाचा शर्मा चौहान के साथ बाइक से आंदर बाजार जा रहा था तभी फिरोजपुर गांव के पास एक बाइक ने धक्का मार दिया। जिससे रंजीत चौहान की घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि शर्मा चौहान घायल हो गया। ग्रामीणों ने दोनों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल लाए जहां से चिकित्सकों ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया। वहीं घटना के बाद शोकाकुल माहौल में किसी तरह शादी संपन्न हुआ। रंजीत की मौत के बाद उसके माता एवं गांव इंग्लिश गांव में शोक व्याप्त है।​[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]