सिवान में लॉकडाउन के तीसरे दिन सड़कों पर लोगों की आवाजाही दिखी कम

0

परवेज अख्तर/सिवान: लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने के लिए जिला प्रशासन सख्त दिख रहा है। नियम का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। जिले में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर लागू किए गए लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को शहरी इलाकों में सन्नाटा पसरा रहा। लोग घरों में हीं कैद रहे और इमरजेंसी में ही सड़कों पर नजर आए। इस दौरान बाजार पूरी तरह से बंद रहे। शहरी कस्बाई क्षेत्रों के साथ हीं गांवों में भी मुख्य सड़कों पर स्थित दुकानें बंद दिखाई दीं। बाजारों व सड़कों पर वाहनों व लोगों का आवागमन कम रहा। गली, मोहल्लों, बाजारों, चौराहों एवं तिराहों पर प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट, पुलिस पदाधिकारियों व पुलिस बल के जवानों की निगरानी रही। कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण की वजह से लोग भी जान जोखिम में डालकर प्रतिष्ठान संचालित करने से बच रहे हैं। बता दें कि गृह विभाग के निर्देश पर बुधवार से लॉकडाउन लगाया गया है। इस दौरान आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर अन्य सभी व्यापारिक प्रतिष्ठानों को पूरी तरह से बंद रखने का निर्देश दिया गया हैं। इन्हीं दिशा निर्देशों का पालन जिले में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा कराया जा रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

लापरवाह लोगों को चेतावनी देकर भेजा घर

गली-मोहल्लों के बाहर एवं मुख्य मार्ग पर लोगों का आवागमन भी नाममात्र के लिए दिखा। जरूरी कार्यों से ही लोग घरों से बाहर आए। जो किसी आवश्यक काम से बाहर निकले भी तो उन्हें पुलिस की जांच से गुजरना पड़ा। दवा सहित अन्य जरूरी कामों से निकले लोगों को तो पुलिस वालों ने जाने दिया। कुछ लापरवाह लोग बेवजह भी घरों के बाहर घूमते दिखे, जिन्हें पुलिस ने डांट फटकार कर व चेतावनी के साथ वापस घर भेज दिया। गौरतलब हो कि लॉकडाउन को दौरान सुबह सात बजे से 11 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खोलने का निर्देश दिया गया है। वहीं इस दौरान मुख्य चौक चौराहों पर लोग सब्जी व अन्य खाद्य वस्तुओं की खरीदारी करते देखे गए। प्रशासनिक

अधिकारी दिखे मुस्तैद

लॉकडाउन प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए जिला प्रशासन के पदाधिकारी व पुलिस पदाधिकारी मुस्तैद दिखे। शहर के मखदुम सराय मोड़ पर अपर अनुमंडल पदाधिकारी अभिषेक चंदन, सदर बीडीओ रमेंद्र कुमार, नगर थाना के एसआई पंकज कुमार ठाकुर पूरे दल-बल के साथ पूरी मुस्तैदी के साथ दो पहिया और चार पहिया से आने जाने वालों को रोककर पूछताछ कर रहे थे। और बेवजह घर से बाहर नहीं निकलने व मास्क का प्रयोग करने की अपील कर रहे थे।