टीबी उन्मूलन पर ऑनलाइन क्वीज प्रतियोगिता का होगा आयोजन, कम्यूनिटी हेल्थ आफिसर लेंगे हिस्सा

0
  • राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी ने सिविल सर्जन को आयोजन के संबंध में दिये निर्देश
  • हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के सभी कम्यूनिटी हेल्थ आफिसर लेंगे इस क्वीज में हिस्सा
  • प्रत्येक राज्य से चयनित तीन सीएचओ होंगे सम्मानित
  • 23 मार्च, 5 अप्रैल और 7 अप्रैल को होगा प्रतियोगिता का आयोजन
  • 14 अप्रैल को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर दिवस पर सम्मान कार्यक्रम

छपरा: 24 मार्च को विश्व टीबी दिवस मनाया जाना है. इस दिशा में स्वास्थ्य विभाग पूरी तैयारी में जुटा है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में टीबी जैसे गंभीर रोग की रोकथाम पर जागरूकता लाने के लिए आनलाइन क्वीज का भी आयोजन किया जायेगा. इस क्वीज प्रतियोगिता में सभी विकसित हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर पदास्थापित कम्यूनिटी हेल्थ आफिसर हिस्सा लेंगे. हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ एके शाही ने सिविल सर्जन को इस संबंध में पत्र लिख कर कार्यक्रम आयोजन के संबंध में आवश्यक निर्देश दिया है. पत्र में कहा गया है कि परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा टीबी दिवस पर स्वास्थ्य उपकेंद्रों पर पदस्थापित सीएचओ के लिए आनलाइन क्वीज का आयोजन किया गया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

तीन चरण में आयोजित किया जायेगा क्वीज

तीन चरण में इस क्वीज का आयोजन किया जायेगा. क्वीज का पहला राउंड 23 मार्च, दूसरा राउंड 5 अप्रैल को तथा तीसरा राउंड 7 अप्रैल को होना है. इसके साथ ही सर्वश्रेष्ठ सीएचओ को स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 14 अप्रैल 2021 को सम्मानित किया जायेगा. प्रतियोगिता के पहले राउंड में सभी एसएचओ हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. प्रत्येक राज्य से टॉप दस स्कोर करने वालों को दूसरे राउंड के लिए शार्टलिस्ट किया जायेगा. प्रत्येक राज्य से दूसरे राउंड में टॉप तीन स्कोर करने वालों को तीसरे राउंड के लिए चयनित किया जाना है. और तीसरे राउंड में तीन टॉप स्कोर करने वालों को सम्मानित किया जायेगा. क्वीलिफाई करने वाले सीएचओ को सर्टिफिकेट ऑफ़ पार्टिसिपेशन दिया जायेगा.

टीबी से संंबंधित 30 प्रश्न का देना है जवाब

इस क्वीज के माध्यम से टीबी से जानकारी, समुदाय में रोग के प्रति सोच और वर्तमान में अपनाये गये व्यवहार आदि प्रश्न पूछे जायेंगे. इस क्वीज में 30 प्रश्न पूछे जायेंगे और प्रत्येक प्रश्न पर एक अंक दिया जायेगा. दस प्रश्न टीबी बीमारी से संबंधित तकनीकी जानकारी पर आधारित होगा. वहीं दस प्रश्न नेशनल ट्यूबरक्लोसिस एलिमिनेशन प्रोग्राम और नेशनल हेल्थ मिशन प्रोग्राम से संबंधित होगा. बाकी के दस प्रश्न टीबी के मरीजों को दी जाने वाले परामर्श, सामुदाय के साथ होने वाले कार्य आदि पर आधारित होगा.