वार्षिकोत्सव पर कवि सम्मेलन सह मुशायरे का आयोजन

0

कवियों व शायरों की रचनाओं ने श्रोताओं को बांधे रखा

संघमित्रा पब्लिक स्कूल का मनाया गया वार्षिकोत्सव

परवेज अख्तर/सिवान : शहर के सूता मिल स्थित संघमित्रा पब्लिक स्कूल के प्रांगण में मंगलवार की शाम विद्यालय के वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में संघमित्रा एजुकेशनल सोसाइटी के तत्वावधान में भव्य अखिल भारतीय कवि सम्मेलन सह मुशायरा का आयोजन किया गया। सोसायटी के सचिव सह स्कूल के चेयरमैन वरीय अधिवक्ता मनीष प्रसाद सिंह के स्वागत भाषण एवं प्राचार्या नबोनिता घोष के कुशल संचालन में कार्यक्रम की शुरुआत हुई। इसके बाद कवि सम्मेलन सह मुशायरा अपने परवान पर चढ़ना शुरू हुआ। इस आयोजन में देश-विदेश में ख्याति अर्जित करने वाले कवियों और शायरों ने अपनी रचनाएं सुनाकर उपस्थित जन समुदाय की भरपूर तालियां बटोरीं। शायरा और कवि सम्मेलन की अध्यक्षता जाने-माने शायर डॉ.जफर कमाली ने की। वहीं दिल्ली से आए मशहूर शायर मुईन शादाब ने अपने कुशल संचालन में आयोजन को आगे बढ़ाया। मुजफरपुर कवयित्री डॉ. आरती कुमारी ने काव्यपाठ प्रारंभ किया तो श्रोताओं ने खूब तालियां बजाई। दिल्ली के आलोक श्रीवास्तव और लक्ष्मीशंकर बाजपेयी ने समरसता और सद्भाव की कविताएं प्रस्तुत कर श्रोताओं का मन मोह लिया। शायरा अलीना इतरत ने अपनी खूबसूरत गजल सुनाकर श्रोताओं का दिल जीता। हास्य और व्यंग्य के मशहुर शायरी पर खूब ठहाके लगे, रामपुर के शायर अकील नोमानी की शायरी और हाशिम फिरोजाबादी के सद्भावना के गीत का खूब रंग जमाए। अध्यक्ष डॉ. जफर कमाली ने भी अपनी रचनाओं से खूब कमाल किया। सचिव ने कहा कि जब मुशायरे और कवि सम्मेलन सिर्फ लतीफ और नकारात्मक विचारों में सिमट गए हो और बदनाम हो रहे हों, ऐसे में मुशायरा और कवि सम्मेलन का आयोजन जरूरी हो जाता है। विद्यालय के चेयरमैन मनीष प्रसाद सिंह और डीपीएस पटना के वाइस चेरयमैन संजीव कुमार का यह सकारात्मक प्रयास अत्यंत सफल रहा। नगर के सभ्रान्त लोगों की उपस्थिति ने इस आयोजन में चार चांद लगाया। अंत में मनीष प्रसाद सिंह के धन्यवाद के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ।