रघुनाथपुर के तीन क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे परदेसी

0
quarantine (2)

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के रघुनाथपुर प्रखंड के राजपुर मोड़ स्थित सूर्यमुखी उच्च विद्यालय, राजपुर उच्च विद्यालय और मिडिल स्कूल राजपुर में बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर में अब तक कुल 130 लोगों को क्वारंटीन किया जा चुका है। पुलिस और प्रशासन को परदेशियों के अपने गांव में आने की जैसे-जैसे सूचना मिल रही है, बारी-बारी से उन्हें क्वारंटाइन सेंटर लाया जा रहा है। सभी को यहां
पर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के निगरानी में रखा जा रहा है। सभी का
बारी-बारी से हेल्थ चेकअप किया जा रहा। प्रखंड प्रशासन की ओर से समय-समय
पर क्वारंटीन किए गए परदेशियों को खाना और साफ पानी उपलब्ध कराया जा रहा
है। इस कार्य में स्वयं सेवी संस्था भी आगे आ रही है। आदमपुर गांव की
स्वयं सेवी संस्था जनसेवा समिति भी इस कार्य में प्रशासन की भरपूर मदद कर
रही है। समिति के सदस्य राजू गुप्ता ने कहा कि हमें मदद करने में सुकून
मिलता है। वहीं इधर निखती कला गांव के समाजसेवी राजीव श्रीवास्तव ने अपने
गांव में चयनित किए गए सेंटर पर लोगों को रहने की स्थिति में हर प्रकार
के व्यस्था की जिम्मेदारी लेने के लिए बीडीओ को पत्र लिखकर अनुमति मांगी
है। लेकिन अभी यहां सेंटर चालू नहीं हुआ है।
पुलिस की सख्ती से बाजार पड़ा सूना
रघुनाथपुर में लॉकडाउन के अनुपालन में आ रही बाधा से निपटने को लेकर जब
पुलिस सख्त हुई तो बाजार भी पूरी तरह से सूना पड़ गया। पुलिस द्वारा बाइक
और बड़ी गाड़ियों के बाजार में प्रवेश के पाबंदी के बावजूद गुरुवार को कई
लोग बाइक से यहां पहुंच गए। इनमें 6 बाइक को पुलिस ने जब्त कर ली। राशन
के दुकान भी आठ बजते ही बंद हो गए। दोपहर में तो बाजार में परिंदा भी नजर
नहीं आ रहा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

आंदर अस्पताल को उपलब्ध कराया मास्क

रघुनाथपुर प्रखंड के कुशहरा पंचायत के मुखिया सुरेन्द्र प्रसाद यादव ने आंदर के
प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और थाने को मास्क उपलब्ध कराया। कहा कि कुछ
साबुन भी दिए गए हैं। इधर निखती कला के वार्ड 6 के क्रियान्वयन समिति ने
घर-घर दो साबुन का वितरण किया। दिघवलिया पंचायत के अभिषेक सिंह ने मुखिया
गोवर्धन बैठा पर यहां के लिए चयनित क्वारंटाइन सेंटर की अब तक साफ-सफाई
नहीं करने व लोगों में साबुन आदि का वितरण नहीं करने का आरोप लगाया।
हालांकि मुखिया ने कहा कि सबकुछ हो रहा है। राजनीतिक कारणों से यह आरोप
लग रहा है।