ट्रेन के महिला डिब्बे में पुरुष यात्रियों का रहता है कब्जा

0
train

यात्रा के दौरान महिला यात्रियों को होती है परेशानी

कार्यवाई होने के बाद भी अपने आदत से लाचार है यात्री

परवेज़ अख्तर/सीवान:- छपरा – गोरखपुर रेलखंड में चलने वाली ट्रेनों में महिला बोगी में पुरूषों का कब्ज़ा रहता है . इससे महिला यात्रियों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.हालांकि सुरक्षा के दृष्टिकोण से आरपीएफ लगातार अभियान चला रही है. लेकिन इसका कोई खास असर वैसे यात्रियों पर नहीं पड़ रहा है.जिसमें रेलवे एक्ट का उल्लंघन कर यात्रा करने की लत लगी है.इस रेलखंड में चलने वाली ट्रेनों के महिला बोगी में पुरुष यात्रियों का कब्ज़ा रहता है . रेलवे एक्ट का उल्लंघन करने के आरोप में पकड़े जा रहे हैं. लेकिन सख्त कार्रवाई नहीं होने से आरपीएफ का उक्त अभियान असरदार साबित नहीं हो रहा है. महिला डब्बे में घुस कर पुरुष यात्रियों के द्वारा सफर करते खासकर यात्री देखे जाते हैं. इन आदतों में सुधार नहीं हो रहा है. लोगों में यह चर्चा होने लगी है कि रेलवे प्रशासन के द्वारा पकड़े जाने के बाद महज जुर्माना लगाकर उन्हें मुक्त कर देने से उनमें प्रशासन का भय नहीं बन रहा है. परिणाम यह हो रहा कि आरपीएफ की चेकिंग अभियान व्यापक लोगों पर अपना असर नहीं डाल पा रहा है सिवान जंक्शन से यात्रा करने वाले लोगों के अनुसार रेलवे प्रशासन को चाहिए कि एक्ट का उल्लंघन कर ट्रेन में सफर करने वाले लोगों के विरुद्ध कुछ सख्त कार्रवाई की जाये . उन्हें जेल भेजा जाये . ताकि लोगों में यह मैसेज फैल सकें कि महिला बोगी में जबरन घुस कर यात्रा करना कतई उचित नहीं है , यदि ऐसी हालत में पकड़े जायेंगे तो जेल की हवा खानी पड़ेगी , लेकिन रेल पुलिस प्रावधान के तहत ही कार्रवाई करने तक सीमित रह जाती है . रेल पुलिस के अनुसार उक्त स्थितियों में यात्रा करने के दौरान पकड़े गये यात्रियों को जुर्माना करने तक ही कानूनी प्रावधान है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

यात्रा के दौरान महिला यात्रियों को होती है परेशानी

किसी भी ट्रेन में एक तो कि महिला डिब्बे की संख्या एक – दो ही रहती है.उसमें पुरुष यात्रियों के द्वारा कब्जा जमा लिये जाने से महिला यात्री काफी परेशानी में रहती हैं.अत्यधिक भीड़ रहने के कारण महिलाएं वैसे पुरुषों से उलझना नहीं चाहती जो जबरन महिला बोगी में घुस जाते हैं. उक्त रेलखंड में यात्रा करने वाली महिला यात्रियों की भी संख्या अच्छी खासी रहती है .महिला बोगी में पुरुषों को बैठे देख महिला यात्री को अन्य बोगियों में सवार होने में काफी कठिनाई झेलनी पड़ रही है . इस रेलखंड पर महिलाओं को हो रही परेशानी से थोड़ी निजात दिलाने का जो प्रयास आरपीएफ के द्वारा किया जा रहा है.लेकिन सख्तकार्यवाई नही होने से इसका खामियाजा महिलाओं को भुगतना पड़ता है.

चेकिंग में पकड़े जाते हैं पुरुष यात्री

आरपीएफ इंस्पेक्टर अजय कुमार सिंह ने बताया कि चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है . इस दौरान इस माह में 8 वैसे पुरुष यात्री पकड़े गये जो रेलवे एक्ट का उल्लंघन कर यात्रा कर रहे थे . जो ट्रेनों के महिला डिब्बे में सवार होकर यात्रा कर रहे थे. उक्त सभी यात्री जुर्माना देकर मुक्त हो गये हैं , वही यात्रियों का कहना है कि यदि पकड़े गये लोगों के विरुद्ध रेलवे प्रशासन सख्ती से पेश आता तो लोगों में लगी लत में काफी हद तक सुधार हो सकता है .