जहरखुरानी का शिकार यात्री को नहीं उतारे जाने पर पूर्वांचल एक्सप्रेस में यात्रियों ने किया हंगामा

0

सीवान जंक्शन पर यात्री को उतारने से कतरा रही थी जीआरपी

हंगामा देख जीआरपी ने यात्री को उतार कर कराया भर्ती

परवेज़ अख्तर/सीवान :- गोरखपुर से चलकर सिवान के रास्ते हावड़ा को जाने वाली पूर्वांचल एक्सप्रेस में एक यात्री नशा खुरानी गिरोह के सदस्यों का शिकार बन गया. उसे अचेतावस्था में देख यात्रियों ने सीवान जंक्शन पर जीआरपी को सूचना दे उतरवाना चाहा तो जीआरपी आनाकानी करती दिखी. यह देख यात्रियों ने जीआरपी का विरोध जताना शुरू कर दिया. यात्रियों का आक्रोश देख जीआरपी ने यात्री को उतार कर सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया. वहीं इलाज कर रहे चिकित्सक डॉ अहमद अली ने बताया कि बेहोश यात्री को किसी ने खाद्य सामग्री में नशीला पदार्थ खिला दिया था. जिससे यात्री बेहोश हो गया था. सदर अस्पताल यात्री को लेकर पहुंचे उदय शंकर मिश्र ने बताया कि वरीय पदाधिकारी के निर्देश सदर अस्पताल लेकर आया हूं. यात्री को कहां पर नशाखुरानी गिरोह के सदस्यों ने निशाना बनाया मुझे कोई जानकारी नहीं है. इधर जीआरपी थानाध्यक्ष इमरान आलम ने बताया कि 15047 अप एक्सप्रेस की बेहोशी के हालत में उतारा गया है.purcha रेल अस्पताल में इलाज के बाद उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. बतादें कि इन दिनों जैसे-जैसे पर्व नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे भटनी-छपरा रेलखंड तथा सीवान-थावे रेलखंड पर नशाखुरानी गिरोह के सदस्य आये दिन घटना को अंजाम दे रहे है. जिस पर अंकुश लगाने में रेल पुलिस नाकाम साबित हो रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गोरखपुर के रास्ते सीवान पहुंचने वाली ट्रेन में अगर रेल पुलिस को कोई भी नशाखुरानी का शिकार रेलयात्री मिलता है तो उसे उतारने के बजाय रेल पुलिस पल्ला झाड़ती नजर आती है. इस संबंध में थानाध्यक्ष ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. सूचना मिलने पर यात्री को उतार उचित इलाज करवाया जाता है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal