जिले में सुदुर ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों को मिल रही है ऑनलाईन चिकित्सीय परामर्श सुविधा

0
  • ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन के माध्यम से दी जा रही है सेवाएं
  • चिकित्सकों के कार्यों की हो रही है मॉनिटरिंग
  • सप्ताह में तीन दिन मरीजों को मिल रही है सुविधाएं

छपरा: सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग के द्वारा ईसंजीवनी टेलीमेडिसिन सेवा की शुरुआत की गई है। जिसके तहत ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा सुविधा मुहैया कराई जा रही है। ईसंजीवनी टेली मेडिसिन के माध्यम से चिकित्सकों के कार्यो की भी रियल टाइम ट्रैकिंग जिला एवं राज्य स्तर पर की जा रही है। मरीजों को स्पोक्स एंड हब प्रणाली के माध्यम से सुविधा मुहैया कराई जा रही है। इसी कड़ी में जिला स्वास्थ समिति की ओर से चिकित्सकों के कार्यों में गुणवत्ता लाने तथा प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से जिला स्तर पर प्रतिदिन रैंकिंग जारी की जा रही है कि किस चिकित्सक के द्वारा कितने मरीजों के उपचार की गई। जिस आधार पर चिकित्सकों की रैंकिंग जारी की जा रही है तथा कम मरीजों को सेवा देने वाले चिकित्सकों को अधिक से अधिक मरीजों को सेवा देने के लिए निर्देशित किया जा रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

सप्ताह में तीन दिन मिल रही है सेवाएं

जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीसी रमेशचंद्र कुमार ने बताया कि ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन ओपीडी सेवा सप्ताह में तीन दिन मरीजों को दी जा रही है। सोमवार, गुरूवार व शनिवार को चिकित्सकों के द्वारा ऑनलाइन चिकित्सीय परामर्श दिया जा रहा है। सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सकों की उपलब्धता नहीं होने से मरीजों को परेशानी होती है। ऐसे मरीजों को चिकित्सीय सुविधा देने के किए स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल के क्षेत्र में यह एक ऐसी सुविधा है, जिसमें सूचना प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करके सुदूर ग्रामीण और दूरदराज के इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाई जा रही है।

‘ई-संजीवनी ओपीडी एप’ के माध्यम से लें परामर्श

ई-टेलीमेडिसिन एक ऐसी सुविधा है, जिसमें सूचना प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करके सुदूर ग्रामीण और दूरदराज के इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाई जा सकती है। इस सुविधा के जरिये सामान्य बीमारियों जैसे सर्दी, बुखार, खांसी, सिर दर्द, पेट दर्द, त्वचा संबंधी बीमारी, संक्रामक रोग, शुगर, ब्लड प्रेशर, कैंसर आदि के उपचार के लिए टेलीमेडिसिन के जरिये चिकित्सक व विशेषज्ञ से निश्शुल्क परामर्श लिया जा सकता है। यदि मरीज के पास एंड्राइड एण्ड्रोइड-स्मार्ट फोन है तो वह ‘ई-संजीवनी ओपीडी एप’ को इंस्टाल करके या फिर ‘ई-संजीवनी डॉट इन’ पोर्टल पर जाकर भी यह सुविधा प्राप्त कर सकता है।