पानी सिर के ऊपर जाने के बाद जागे पवन सिंह! CM नीतीश से क्यों लगाई गुहार? जानें मामला

0

पटना: भोजपुरी स्टार पवन सिंह ने भोजपुरी गीत-संगीत के माध्यम से बढ़ रहे जातिवाद को लेकर बिहार के सीएम नीतीश कुमार से अंकुश लगाने की मांग की है. फेसबुक पोस्ट कर इसके लिए उन्होंने नीतीश कुमार से गुहार लगाई है. पवन सिंह ने कैबिनेट से कानून बनाने का आग्रह किया है और कहा कि भोजपुरी भाषा की गरिमा और बिहार के अस्तित्व को बचाने के लिए यह बेहद जरूरी है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

पवन सिंह ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है- “बिहार की सभ्यता संस्कृति में भोजपुरी का बहुत ही बड़ा महत्व है. अब गीत-संगीत के माध्यम से जिस तरह जातिवाद का जहर बोया जा रहा है, उसपे अंकुश लगना चाहिए. नहीं तो बिहार की प्रतिष्ठा न धार्मिक स्तर पर, न सामाजिक स्तर पर और न ही राजनीतिक स्तर पर बचाया जा सकता है. भोजपुरी भाषी कुछ कलाकारों की वजह से बिहार में जातिगत उन्माद न फैले इसके लिए आप आपसे आदर सहित अनुरोध है कि कैबिनेट के माध्यम से शीघ्र कोई ऐसा कानून बिहार में लाने की कृपा करें, जिससे भोजपुरी भाषा की गरिमा और बिहार के अस्तित्व को बचाया जा सके.”

पानी सिर के ऊपर जाने के बाद गुहार

पवन सिंह के ये गुहार बीते कुछ समय में भोजपुरी संगीत जगत में आई जातिवादी संगीत को लेकर है, जिसमें एक-दूसरे पर संगीत के माध्यम से छींटाकशी की जाती है. पवन सिंह ने इस घटना पर दुख जाहिर किया और जब उन्हें लगा कि पानी सर के ऊपर जा रहा है, तब उन्होंने मुख्यमंत्री से इस पर कानून बना कर रोक लगाने का आग्रह किया है.

जातिगत साजिश का लगा था आरोप

बता दें कि खुद को पवन सिंह का फैन बताने वाले एक शख्स ने खेसारी लाल यादव की पत्नी और बेटी को गंदी गालियां और रेप की धमकी दी थी. खेसारी ने पवन सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा था- यह लड़ाई जाति को लेकर ही है. एक जाति के लोग हमेशा नीचा दिखाते हैं. अब इसके बाद पवन सिंह ने सीएम नीतीश कुमार से गुहार लगाई है कि भोजपुरी को बचाया जा सके.