एसडीओ के नेतृत्व में हुई कुड़वां पंचायत की पीडीएस की दुकानों की जांच

0
nirikshan

बीजेपी नेता अनुरंजन मिश्र की शिकायत पर हो रही है जांच

परवेज अख्तर/सिवान:
डीएम के निदेश पर एसडीओ सदर रामबाबू बैठा के नेतृत्व गठित जांच दल ने शनिवार को प्रखंड की कुड़वां पंचायत की जनवितरण प्रणाली की सभी छह दुकानों की जांच की. ऐसे तो बड़हरिया प्रखंड की कोइरीगांवा पंचायतों की जनवितरण प्रणाली की सभी दुकानों की जांच करनी चाहिए थी,लेकिन समयाभाव के कारण कोइरीगांवा के डीलरों की दुकानों की जांच नहीं की जा सकी. विदित हो कि बीजेपी के पूर्व जिला महामंत्री व सांसद प्रतिनिधि अनुरंजन मिश्र द्वारा डीएम अमित कुमार पांडेय को आवेदन देकर प्रखंड की बड़हरिया, माधोपुर, नवलपुर, कोइरीगांवा, कुड़वां, बालापुर, बहुआरा कादिर व हरदोबारा पंचायतों के डीलरों द्वारा मुफ्त राशन योजना के चावल व चना की कालाबाजारी का आरोप लगाया था व डीएम से जांच करवाने की मांग की थी. उन्होंने अपने आवेदन में कहा था कि नवंबर माह का प्रति यूनिट पांच किलोग्राम चावल व एक किलोग्राम चना 25 दिसंबर देना था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

लेकिन चिह्नित पंचायत के कुछ डीलरों द्वारा पैसे लेकर राशन दिया गया. इधर डीएम ने जन सरोकार के इस मुद्दे को गंभीरता से लेते हुए एसडीओ रामबाबू बैठा के नेतृत्व में जिले के बड़हरिया छोड़कर अन्य प्रखंडों के आपूर्ति पदाधिकारियों की एक टीम गठित की है. यह टीम को चिह्नित पंचायतों की जनवितरण प्रणाली की दुकानों की जांच कर रही है. कुड़वां की जनवितरण प्रणाली की छह दुकानों की जांच एसडीओ रामबाबू बैठा के नेतृत्व में की गयी. इस मौके पर नौतन के एमओ अमरेंद्र कुमार दीपक,हुसैनगंज के एमओ जयप्रकाश मौर्य, जीरादेई के एमओ संतोष कुमार सिन्हा, हसनपुरा के एमओ राकेश रंजन व पचरुखी के एमओ रवि कुमार मौजूद थे. इस जांच से प्रखंड के डीलरों में हड़कंप मचा हुआ है.