बिहार में 39 लोगों के संदिग्ध मौत पर PHQ का अजीबोगरीब तर्क…कहा-अचानक बीमारी से हुई लोगों की मौत….ऐसी कौन सी बीमारी जो होली पर ही फैली….

0

पटना: बिहार में होली के दिन कई जिलों में अचानक लोगों की मौत होने के मामले में बिहार पुलिस ने अजीबोगरीब तर्क दिया है. पुलिस मुख्यालय के एडीजी जितेंद्र सिंह गंगवार ने कहा है कि बीमारी और अन्य वजहों से लोगों की मौत हुई है ना कि जहरीली शराब पीने की वजह से. भागलपुर, बांका, मधेपुरा, सिवान जैसे जिलों में लगभग 40 लोगों की मौत होली और इसके आसपास हो चुकी है.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

होली के दौरान भागलपुर, बांका, मधेपुरा और सीवान में 39 लोगों की संदिग्ध हालत मौत हो गयी। इसको लेकर पुलिस मुख्यालय के ADG जितेंद्र कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन से आयी रिपोर्ट में लोगों की संदिग्ध मौत बीमारी की वजह से हुई है। साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की कि अगर परिवार के कोई सदस्य संदिग्ध हालत में बीमार पड़ते हैं, तो इसकी जानकारी पुलिस प्रशासन को दें, ताकि पुलिस मामले की निगरानी रख सके। आखिर सोचने वाली बात यह है कि यह कैसी बीमारी थी कि होली के दिन ही फैली….

गंगवार ने कहा है कि कई लोगों की मौत के बारे में स्थानीय प्रशासन ने जांच की है और यह बात सामने आई है कि कुछ लोगों को हार्ट अटैक की वजह से मौत हुई. कई ऐसे लोग हैं जिनके परिजनों ने मौत के बाद पोस्टमार्टम नहीं कराया और अंतिम संस्कार भी कर दिया. ऐसे में यह बता पाना बेहद मुश्किल है कि मौत की असल वजह क्या रही. एडीजी पुलिस मुख्यालय ने कहा है कि मधेपुरा जिले में जिन लोगों की मौत हुई है वह किसी न किसी बीमारी से पीड़ित थे. इसके बावजूद मधेपुरा में सभी संदिग्ध जगहों पर मद्य निषेध विभाग और पुलिस की तरफ से संयुक्त छापेमारी की जा रही है।

भागलपुर में 17 से ज्यादा लोगों की मौत की खबर के बावजूद बिहार पुलिस का कहना है कि स्थानीय प्रशासन ने केवल 4 लोगों के मौत की अधिकारिक पुष्टि की है. इसमें से दो लोगों की मौत अस्पताल में हुई है. इनका विसरा रिपोर्ट भी सुरक्षित रखा गया है और पोस्टमार्टम कराया गया है. एफएसएल की रिपोर्ट आने के बाद ही इस मामले में कुछ कहा जा सकता है.

वहीं उन्होंने बताया कि पिछले तीन दिनों में बिहार में कई आपराधिक घटनाएं हुई हैं, जिसकी जांच स्थानीय पुलिस कर रही है। जल्द ही इन वारदातों में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर सलाखों के घेरे में भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि होल के दौरान नशीले पदार्थ के साथ अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान गंजा सहित मदक पदार्थ भी बरामद हुआ है। वहीं इस पर पुलिस लगातार कार्रवाई करती रहेगी।

ADG जितेंद्र सिंह ने बताया कि नालंदा, बेगूसराय और बेतिया के मामलों की जाँच की जा रही है। संबंधित जिलों की पुलिस जल्द ही नतीजों पर पहुंच कर अपराधियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करेगी। नालंदा की दो अलग-अलग घटनाओं में दो अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है, इसकी पुष्टि नालंदा पुलिस ने की है।