तरवारा के रौजा गौर कथक गांव में मौत से नाराज लोगों ने शराब कारोबारियों के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

0
narebaji

आक्रोशित लोगों ने की कई शराब की भठियां ध्वस्त

परवेज़ अख्तर/सिवान :
जिले के जी.बी.नगर तरवारा थाना क्षेत्र के रौजा गौर कथक गांव में शनिवार की सुबह एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गयी. इससे नाराज लोगों ने शराब कारोबारियों के खिलाफ की जमकर नारेबाजी किया. अधेड़ की मौत से गुस्साए लोगों ने दर्जनों शराब की भठियां तोड़ दिया. अपराधियों ने शराब कारोबारी की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए नदी किनारे शव को फेंक दिया है. घटना की सूचना के तीन घंटे बाद मौके पर पहुंची जी. बी. नगर थाने की पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. इस मामले में प्रभारी थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि अधेड़ रौजा गौर बुजुर्ग गांव निवासी द्वारिका महतो है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

मृतक का शव देखने से यह प्रतीत हो रहा था कि अधेड़ की मौत संदिग्ध परिस्थिति में हुई है जो रौजा गौर बुजुर्ग गांव निवासी संतोष बिंद के घर रहकर शराब बनाने एवं बेचने का काम करता था. बीते सोमवार को रौजा गौर कथक गांव में छापेमारी करने गई उत्पाद विभाग की टीम पर शराब कारोबारियों ने हमला कर दिया था. इसके बाद से शराब कारोबारियों के बीच तनाव चल रहा था. पुलिस इस बिंदु पर भी अनुसंधान कर रही है कहीं अधेड़ की मौत अत्याधिक शराब पीने से तो नहीं हुई है या साजिश के तहत अपराधियों ने हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए शव को नदी किनारे तो नहीं फेंक दिया है.

मृतक की पत्नी माला देवी ने थाने में आवेदन देकर संतोष बिंद समेत पांच लोगों को आरोपित किया है. इस संबंध में प्रभारी थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने घटना को लेकर मृतक द्वारिका की पत्नी माला देवी के आवेदन पर एफआईआर दर्ज कर संतोष बिंद  समेत पांच लोगों को आरोपित किया गया है. पुलिस घटना को लेकर कई बिंदुओं पर अनुसंधान कर रही है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद घटना से पर्दा उठ पाएगा.