सिवान शहर में रौनक को गोली मारने वाले अपराधी को लोगों ने पकड़कर की भरपूर पिटाई

0
  • गिरफ्तार अपराधी पर दर्ज हैं कई अपराधिक मामले
  • चली गोली से रौनक घायल व बाल-बाल बचा सोनू

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के सराय ओपी क्षेत्र के मखदुम सराय में शुक्रवार की देर शाम रौनक कुमार नामक युवक को अपराधियों ने गोली मार सदीद तौर पर जख्मी कर दिया।आनन-फानन में उसे इलाज हेतू सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।जहां ड्यूटी पर तैनात चिकित्सा पदाधिकारी डॉ प्रदीप कुमार ने उसकी हालत को गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर कर दिया। डॉ प्रदीप कुमार ने बताया कि उसके सीने के हार्ट वाली हिस्से में गोली जा फंसी थी। जिससे उसकी हालत गंभीर थी। उधर घटना को अंजाम देने के बाद लोगों ने गोली मारने वाले एक अपराधी को पकड़ लिया।तथा एक कमरे में बंद कर जबरदस्त पिटाई कर डाली।जिससे वह भी गंभीर रूप से घायल हो गया। बाद में वरीय पुलिस पदाधिकारी की सूचना पर नगर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची  तथा पकड़े गए अपराधी को अपने हिरासत में लेकर इलाज हेतु सिवान सदर अस्पताल में भर्ती कराया।जहां उसका इलाज चल रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

chot lagi

पकड़ा गया अपराधी विक्रम उर्फ झीगन है। झीगन पूर्व से ही एक शातिर अपराधी है।पुलिस से मिली जानकारी अनुसार पकड़ा गया विक्रम उर्फ झीगन 2009 में मुफस्सिल थाना क्षेत्र कदम मोड़ में सीएसपी से आठ लाख लूट व आ‌र्म्स एक्ट कांड मामले में फरार चल रहा था।नगर थाना इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित ने बताया कि बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई। विक्रम पर लूट व आ‌र्म्स एक्ट सहित विभिन्न मामले दर्ज हैं। फायरिग मामले में सराय ओपी क्षेत्र के मखदुम सराय पश्चिम टोला निवासी सोनू कुमार ने अपने बयान में बताया कि मैं पश्चिम टोला मोड़ पर पकौड़ी एवं नाश्ता का ठेला लगाता हूं। संध्या सात बजे अपने पापा के साथ अपने दुकान पर था।

giraftar

इसी समय मखदुम सराय निवासी विक्रम उर्फ झीगन उसके साथ अस्पताल रोड क्यामुद्दीन एवं मखदुम सराय के मिस्टर आए। मैंने उक्त लोगों से रास्ता बंद होने की जानकारी देते हुए दूसरी तरफ से जाने को कहा। इस बात पर उक्त तीनों मुझसे गाली गलौज करने लगे और मेरी पिटाई शुरू कर दी। इसी बीच विक्रम गुप्ता ने पास में रखे पिस्टल से मुझ पर फायरिग कर दी, गोली मेरे गर्दन के बगल से होती हुई पीछे खड़े रौनक को जाकर लग गई। फायरिग की आवाज सुनकर स्थानीय लोगों मौके पर पहुंचे और भागने के क्रम में विक्रम को पकड़ कर पुलिस के सौंपा दिया।उक्त घटना को लेकर पुलिस गहराई पूर्वक जांच कर रही है।