दुस्साहस :- छापेमारी के दौरान पुलिस का रिवाल्वर गायब, बरामदगी के लिए पुलिस कर रही है छापेमारी

0

मामला:– रौजा गौर गांव का

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

परवेज़ अख्तर/सिवान : जिले के जी.बी नगर थाना क्षेत्र के रौजा गौर गांव में शराब माफियाओं द्वारा उत्पाद विभाग की टीम तथा स्थानीय जी.बी नगर पुलिस टीम पर जोरदार हमला किया गया है। इस हमले में लगभग आधा दर्जन पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जिनका इलाज सीवान के सदर अस्पताल में जारी है। उक्त घटना सोमवार की सुबह की बताई जा रही है। घटना के बाद से पूरा रौजा गौर गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। सदर एसडीपीओ जितेंद्र पांडे के नेतृत्व में कई थाने के पुलिस गांव में कैंप की हुई है। यहां बताते चलें कि उत्पाद विभाग की टीम तथा स्थानीय जी.बी नगर थाना पुलिस पर शराब माफियाओं ने जोरदार हमला बोल दिया था।

इस दौरान जी. बी. नगर थाने में पदस्थापित सहायक अवर निरीक्षक कल्लू रजक गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। तथा उनका सर्विस रिवाल्वर भी उपद्रवियों द्वारा छीन ली गई है। जिसकी बरामदगी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। खबर लिखे जाने तक छीनी गई सर्विस रिवाल्वर बरामद नहीं हो सकी थी। यहां बताते चले कि विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उत्पाद विभाग की टीम ने सोमवार की सुबह रौजा गौर गांव में अवैध शराब के कारोबारियों के विरुद्ध छापेमारी करने गई हुई थी कि इसी बीच अवैध शराब कारोबारियों का एक झुंड ने उत्पाद विभाग की टीम पर जोरदार हमला बोल दिया।अवैध शराब कारोबारियों का रुख देख उत्पाद विभाग की टीम ने इसकी सूचना स्थानीय जी.बी. नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार सिंह को दी।

श्री सिंह के निर्देश का अनुपालन करते हुए थाने में पदस्थापित अवर निरीक्षक बिमलेश कुमार तथा सहायक अवर निरीक्षक कल्लू रजक तुरंत दल बल के साथ मौके वारदात पर पहुंचे जहां जी.बी नगर थाना पुलिस की वाहन को देखते ही शराब माफिया आग- बबूला होकर उन पर भी हमला बोल दिए। इस हमले में दोनों पदाधिकारी समेत अन्य कई पुलिस गंभीर रूप से घायल हो गए। खबर लिखे जाने तक सभी घायल पुलिस पदाधिकारियों का इलाज सिवान के सदर अस्पताल में चल रहा है।