बिहार में काहे की शराबबंदी! दिन और साल छोड़िये, चौंका देगी हर मिनट छलकते जाम की हकीकत

0

पटना: बिहार में हर घंटे औसत 1341 लीटर अवैध शराब पकड़ी जा रही है। इसे और छोटी इकाई में बदले तो हर मिनट 22 लीटर शराब पुलिस और मद्य निषेध विभाग की टीम मिलकर पकड़ती है। सिर्फ दिसंबर में मद्य निषेध विभाग की उत्पाद टीम ने छापेमारी कर 95,534 लीटर शराब पकड़ी है। पूर्ण शराबबंदी वाले राज्य बिहार में इस साल एक करोड़ लीटर से अधिक शराब पकड़ी गई है। पुलिस और मद्य निषेध इकाई ने नवंबर महीने तक 1.04 करोड़ लीटर शराब पकड़ी है। इसमें 33 लाख देसी और 71.66 लाख लीटर विदेशी शराब शामिल है। इसके अलावा उत्पाद टीम ने 21 दिसंबर तक छापेमारी कर 12.73 लाख लीटर शराब बरामद की है। दोनों आंकड़ों को जोड़ दें तो अभी तक 1 करोड़ 16 लाख लीटर से अधिक शराब पूरे बिहार से पकड़ी गई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मुजफ्फरपुर, वैशाली, सारण, गोपालगंज बेल्ट सबसे एक्टिव

बिहार में सबसे अधिक शराब मुजफ्फरपुर, वैशाली, सारण और गोपालगंज बेल्ट से पकड़ी जा रही है। मुजफ्फरपुर में सबसे अधिक 8,39,047 लीटर शराब इस साल पकड़ी गई है। इसमें 95,004 लीटर देसी और 7,44,043 लीटर विदेशी शराब शामिल है। वैशाली जिला 7,38,771 लीटर के साथ दूसरे, सारण 7,10,635 के साथ तीसरे और गोपालगंज 6,85,905 के साथ चौथे स्थान पर है। पटना में नवंबर माह तक 6,47,541 लीटर शराब पकड़ी गई है। इसमें 3,11,286 देसी और 3,36,255 लीटर विदेशी शराब शामिल है।

रेल जोन में जमालपुर आगे

बिहार में 40 पुलिस जिलों के अलावा चार रेलवे जोन भी है। इसमें सबसे अधिक रेल जमालपुर जोन में 1.17 लाख लीटर शराब इस साल पकड़ी गई है। रेल, पटना 83327 लीटर के साथ दूसरे, रेल मुजफ्फरपुर 40,467 लीटर के साथ तीसरे और रेल कटिहार 20565 लीटर के साथ चौथे स्थान पर है।

सबसे अधिक शराब रिकवरी वाले सात जिले

जिला     जब्त शराब    देसी       विदेशी

  1. मुजफ्फरपुर  8,39,047   95,004   7,44,043
  2. वैशाली        7,38,771   80,653    6,58,118
  3. सारण         7,10,635   3,21,259  3,89,376
  4. गोपालगंज   6,85,905   1,25,475  5,60,430
  5. पटना         6,47,541    3,11,286  3,36,255
  6. रोहतास      5,67,885   1,09,700  4,85,185
  7. मोतिहारी    5,05,884    1,27,665  3,78,219

दिसंबर में उत्पाद विभाग ने पकड़ी 95 हजार लीटर शराब

मद्य निषेध विभाग की उत्पाद टीम की ओर से सिर्फ दिसंबर माह में 7111 जगहों पर छापेमारी कर 95,534 लीटर शराब पकड़ी गई है। इसमें 42,913 लीटर देसी और 52,621 लीटर विदेशी शराब शामिल है। इस दौरान टीम ने 615 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। पूर्णिया में सबसे अधिक 16,197 लीटर शराब पकड़ में आई है। इसके अलावा पटना में 10,211 लीटर शराब पकड़ी गई है। दिसंबर माह में सबसे कम 71 लीटर शराब शिवहर से पकड़ी गई है।

चेकपोस्ट पर बढ़ाई गई सख्ती

मद्य निषेध एवं उत्पाद विभाग के डिप्टी कमिश्नर कृष्ण कुमार ने कहा कि शराबबंदी को लेकर चेकपोस्ट पर सख्ती बढ़ाई गई है। उत्पाद विभाग की टीम लगातार छापेमारी कर रही है। सिर्फ दिसंबर में सात हजार से अधिक छापेमारियां की गई हैं। मुख्यालय से विशेष टीम भी जिलों का औचक निरीक्षण कर रही हैं। शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने वाले पुलिसकर्मियों और उत्पाद निरीक्षकों पर भी कार्रवाई की जा रही है।