रघुनाथपुर: हंगामा के चलते टारी में बीच में ही बंद हुआ टीकाकरण

0
  • चार बजे सुबह से ही लाइन लगाए थे कई गांवों के लोग
  • केन्द्रों पर वैक्सीनेशन के लिए सुबह होते मारामारी शुरू
  • 1000 से अधिक की भीड़ उमड़ी थी टीका लेने के लिए

परवेज अख्तर/सिवान: रघुनाथपुर रघुनाथपुर में टीका केंद्रों पर समुचित व्यवस्था नहीं होने और वैक्सीन के उपलब्ध डोज से तीन गुना ज्यादा लोगों के पहुंचने से रोज अफरातफरी और हंगामा के साथ मारपीट की घटनाएं हो रही है। प्रशासनिक स्तर से कोई विशेष व्यवस्था नहीं किये जाने से हंगामा बढ़ते देख स्वास्थ्य कर्मी भाग खड़े हो जा रहे हैं। इससे दूसरे प्रदेशों में काम करने वाले मजदूरों को इससे वंचित होना पड़ रहा है। गांव-मोहल्ले से पैदल चलकर वैक्सीनेशन सेंटर पर इस उम्मीद के साथ बिना खाये-पिये लोग पहुंच रहे हैं कि आज उन्हें भी वैक्सीन लग जाएगा। लेकिन, कुछ लोगों की गलत व्यवहार के चलते सैकड़ों लोगों को टीका से वंचित होना पड़ रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

टारी बाजार में शनिवार को टीका लेने के लिए सुबह 4 बजे से लोग लाइन में लगे थे। सुबह 10 बजे के बाद टीका देने का काम शुरू हुआ तो अपनी जगह कब्जाने की होड़ में लोग धक्का-मुक्की शुरू कर दिए। 500 डोज यहां वैक्सीन उपलब्ध था। जबकि भीड़ 1000 लोगों की थी। पहले हम के चक्कर में कुछ लोग कमरे के अंदर प्रवेश किये तो टीका देने वाले कर्मी दोपहर साढ़े 12 बजे ही कामकाज छोड़कर चल दिये। सुरक्षा को लेकर यहां दो होमगार्ड के जवान तैनात थे। लोगों का कहना था कि टारी के इस केन्द्र पर रजिस्ट्रेशन काउंटर तक जाने में ही लोगों को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था। शनिवार को टारी के अलावा राजपुर में भी वैक्सीन देने का काम हो रहा था।