याद रखिये: अभी कोरोना का संक्रमण खत्म नहीं हुआ है, सावधानी बहुत जरूरी

0
  • अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की हो रही है जांच
  • कोविड केयर सेंटर व डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर भी सुव्यवस्थित
  • वैक्सीनेशन के बाद भी नियमों का पालन जरूरी

छपरा: आज से ठीक एक साल पहले सबकुछ बंद था। सड़कों से लेकर बाजारों तक सब जगह सन्नाटा पसरा था। बाजार, औद्योगिक ईकाइयां, सरकारी-गैर सरकारी कार्यालय आदि सब बंद थे। शाम को ताली-थाली, शंख, घंटी की आवाज से पूरा वातावरण गुंजायमान हो गया था। कोरोना योद्धाओं का अभिवादन करने के साथ ही सभी ने कोरोना को हराने की चुनौती को स्वीकार किया था। जी हां, हम बात कर रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर देशभर में आयोजित जनता क‌र्फ्यू की। एक साल में कोरोना बढ़ा, फिर कम हुआ और अब फिर से संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। कोरोना खत्म नहीं हुआ, लेकिन लापरवाही बढ़ रही है। बाजारों से लेकर हर जगह भीड़ रहती है। जनता क‌र्फ्यू का एक साल हमें अहसास कराने वाला है कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए सावधानी का साथ बेहद जरूरी है। वैक्सीन लगवाने से पहले भी और वैक्सीन लगवाने के बाद भी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

नियमों का पालन करना बेहद जरूरी

सिविल सर्जन डॉ. जेपी सुकुमार ने कहा कि कोरोना का डर कम हुआ है, कितु बचाव जरूरी है। टीकाकरण भी चल रहा है,लेकिन इस सबके बावजूद कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करना बेहद जरूरी । नियमित रूप से मास्क लगायें । खांसी एव छींक आने पर मुंह साफ करने के लिए रुमाल आदि का प्रयोग करें। चेहरे, मुंह एवं आंख पर हाथ न लगाएं। हाथों को बार-बार साबुन से कम से कम 60 सेकेंड तक धोएं। यदि किसी बुखार के रोगी से मिलना जरूरी हो, तो मुंह पर मास्क लगाकर रखें। किसी भी वस्तु को छूने के उपरांत हाथों को अच्छी तरह सैनिटाइज करें। थोड़ी सी सावधानी से कोरोना को मात दी जा सकती है।

अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की हो रही है जांच

मुंबई समेत अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों को देखते हुए कोरोना सैंपल जांच का दायरा भी बढ़ा दिया गया है। सरकारी अस्पतालों के अलावा रेलवे स्टेशनों समेत अन्य स्थानों पर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा सैंपल संग्रहित करने की व्यवस्था की गई है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक मुंबई, पंजाब समेत अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों की कोविड-19 जांच रेलवे स्टेशन पर ही की जा रही है ताकि पता चल सके कि किस यात्री में कोरोना का लक्षण है और किस में नहीं।

कोविड केयर सेंटर व डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर भी सुव्यवस्थित

विभागीय निर्देश के आलोक में कोविड केयर सेंटर व डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर को भी सुव्यवस्थित किया गया है। पंचायतों में भी पंचायत जनप्रतिनिधियों के सहयोग से प्रचार-प्रसार व सर्वे का कार्य किया जा रहा है।

कोरोना काल में इन उचित व्यवहारों का करें पालन

  • एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें
  • सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेसकवर या मास्क पहनें
  • अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं
  • आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें
  • छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें