चर्चित समाजसेवी सह एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान ने संगीता यादव की जीत पर कहा कि सिवान के लोगों ने अपनी चट्टानी एकता की दिखाई है ताकत

0
  • तरवारा पंचायत के काजी टोला में चुनाव संपन्न के बाद रईस खान ने की प्रेस वार्ता
  • अंग्रेजों के चंगुल में जकड़ी हुई भारत माता को आजादी दिलाने का काम सभी धर्म के लोगों ने किया

✍️परवेज अख्तर /एडिटर इन चीफ
हमारे भारतवर्ष में सभी अलग-अलग धर्म, अलग-अलग संप्रदाय के लोग रहते हैं।हमारा संपूर्ण भारत एक कुटुंब की तरह है। इसका जीता जागता उदाहरण सोमवार को सिवान में हुए जिप अध्यक्ष के चुनाव में देखने को मिला। उपरोक्त बातें चर्चित समाजसेवी सह एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान ने पचरुखी प्रखंड के तरवारा पंचायत के काजीटोला स्थित नवनिर्वाचित मुखिया शाहिदा खातून के आवास पर चुनाव समाप्ति के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा। चर्चित समाजसेवी सह एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान ने कहा कि हमारे देश के प्रसिद्ध शायर इकबाल की लिखी गई पंक्तियां “मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना ”। ऐसी पंक्ति को सिवान जिले के विभिन्न क्षेत्रों से जीत दर्ज किए हुए जनप्रतिनिधियों ने चरितार्थ करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि आज हमारे देश में बहुत से ऐसे कट्टरपंथी धर्म के लोग हैं, चाहे वह हिंदू हो या वह मुसलमान ! जो लोग अपने अपने धर्म के नाम पर दंगे भड़काने का काम कर रहे हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

इन सब की वजह से सभी संप्रदायों के लोग आपस में एक दूसरे से लड़ झगड़ रहे हैं। इसका प्रमुख कारण है कि वह सभी अपने अपने धर्म का एक तरह से प्रचार कर रहे हैं।अपने अपने धर्म को श्रेष्ठ बताने में लगे हुए हैं।जबकि हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई आपस में है भाई भाई।उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में सभी धर्म के लोगों ने मिलकर अंग्रेजों के चंगुल में जकड़ी हुई भारत माता को आजादी दिलाने का काम किया।लेकिन आज चंद लोगों के चलते पूरा समाज टूटते हुए नजर आ रहा है।यह भविष्य के लिए अच्छी बातें नहीं है।लेकिन आज सिवान के दोनों समुदाय के लोगों ने जीप अध्यक्ष के चुनाव में यह साबित कर दिया कि आज भी हम टूटे हुए नहीं बल्कि चट्टानी एकता की तरह जुटे हुए हैं। यहां बताते चलें कि जैसे हीं एनडीए समर्थित उम्मीदवार व जदयू के महासचिव संगीता यादव लगातार दूसरी बार जिला परिषद की अध्यक्ष निर्वाचित हुई तो चर्चित समाजसेवी सह एमएलसी पद के प्रत्यासी रईस खान समेत उनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी।

WhatsApp Image 2022 01 03 at 9.09.32 PM

यहां बताते चले की सिवान में एनडीए समर्थित उम्मीदवार व जदयू की महासचिव संगीता यादव लगातार दूसरी बार जिला परिषद की अध्यक्ष निर्वाचित हुईं हैं।सोमवार को समाहरणालय में जिलाधिकारी अमित कुमार पांडेय की उपस्थिति में संपन्न हुए जिप अध्यक्ष के चुनाव में संगीता यादव ने अपने निकटतम व एकमात्र प्रतिद्वंदी रही महागठबंधन समर्थित आशा देवी को पराजित कर जिला बोर्ड की प्रतिष्ठित कुर्सी पर कब्जा जमा लिया।वहीं दूसरी ओर चांद तारा खातून ने उपाध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया।यहां बताते चलें कि नवनिर्वाचित जिप अध्यक्ष के चुनाव को लेकर सिवान जिले के विभिन्न इलाकों में रईस खान काफी सक्रिय थे।उधर दूसरी ओर प्रेस वार्ता के दौरान तरवारा पंचायत से नवनिर्वाचित मुखिया शाहिदा खातून के पति श्री रहमतुल्लाह अंसारी ने कहा कि सिवान हमेशा शांति सौहार्द के मामले में अपनी एक अलग पहचान देते आ रहा है और हम सभी लोग मिलजुल कर पूर्वजों से चली आ रही गंगा जमुनी तहजीब को टूटने नहीं देंगे।अंत में चर्चित समाजसेवी सह एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान ने मौजूद सभी समर्थकों को मिठाई खिलाकर शुभकामना दी।

WhatsApp Image 2022 01 03 at 9.09.31 PM

बाद में उपस्थित समर्थकों ने उन्हें फूल मालाओं से लादकर स्वागत किया।यहां बताते चलें कि जिला परिषद के अध्यक्ष पद हेतु संगीता यादव व आशा देवी द्वारा नामांकन पत्र दाखिल किया गया। वहीं उपाध्यक्ष पद के लिए चांद तारा खातून, महागठबंधन समर्थित छोटेलाल यादव व निवर्तमान उपाध्यक्ष ब्रजेश सिंह ने नामांकन पर्चा दाखिल किया। पहले चरण में अध्यक्ष पद के लिए जिला परिषद के 41 सदस्यों के द्वारा गुप्त मतदान कराया गया। इसमें संगीता यादव को 22 व आशा देवी को 17 मत प्राप्त हुए। वहीं दो सदस्यों का मत बोगस हो गया। जबकि उपाध्यक्ष पद की उम्मीदवार चांद तारा खातून को 20 मत, छोटेलाल को 9 व निवर्तमान उपाध्यक्ष को 11 मत प्राप्त हुए। इस प्रकार कुल 40 मत उम्मीदवारों को मिले, जबकि एक मत अविधिमान्य घोषित किया गया।इस प्रकार संगीता यादव ने अध्यक्ष व चांद तारा खातून ने उपाध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया।