असामाजिक तत्व उड़ा रहे हैं अफवाह: सिवान में नहीं लगेगा लॉकडाउन !

0
  • उड़ाई गई अफवाह से बाजारों पर पड़ रहा है बुरा असर
  • अफवाह है या हकीकत ?
  • अब तक प्रेस विज्ञप्ति जारी नहीं किया है जिला प्रशासन
  • पर्व को लेकर कपड़ा व्यवसायियों पर पड़ रहा है बुरा असर

परवेज अख्तर/ सिवान:
इन दिनों सिवान में असामाजिक तत्वों द्वारा लॉकडाउन को लेकर तरह तरह की अफवाह फैला रहे हैं।जहां एक तरफ उड़ रही अफवाह से गरीब तबके के लोगों में शामत आ गई है तो दूसरी तरफ पर्व को लेकर भी बाजारों में वीरानी छाई हुई है।रंगों के ‍त्योहार में अब एक हफ्ते से कम का वक्‍त रह गया है।हालांकि जिला प्रशासन ने रंग खेलने को लेकर अलग से गाइडलाइंस जारी किया है। लेकिन अभी तक जिला प्रशासन द्वारा सिवान में लॉकडाउन लगाने को लेकर किसी भी प्रकार का प्रेस विज्ञप्ति जारी नहीं किया गया है।जिसके चलते इन दिनों लॉकडाउन को लेकर सिवान जिले की विभिन्न क्षेत्रों में तरह-तरह की उड़ रही अफवाहों पर विराम लगाया जा सके।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

dukan

यहां बताते चलें कि महाराष्‍ट्र,कर्नाटक,गुजरात, मध्‍य प्रदेश,छत्‍तीसगढ़, पंजाब, तमिलनाडु, हरियाणा जैसे राज्‍यों में केसेज बढ़ते चले जा रहे हैं। कुछ हिस्‍सों में लॉकडाउन लगाया जा चुका है,कहीं सख्‍ती बढ़ाई गई है।स्थिति नहीं सुधरी तो पाबंदियां और जगह भी लगाई जा सकती है।पिछले साल होली के वक्‍त कोविड का प्रकोप इतना नहीं था,फिर भी एहतियात बरतते हुए होली-मिलन समारोह रद्द कर दिए गए थे।इस वक्‍त तो कोरोना की सेकेंड वेव चल रही है,ऐसे में होली मिलन समारोहों पर रोक लगभग तय समझ‍िए।बिहार सरकार ने तो इसका ऐलान भी कर दिया है।महाराष्‍ट्र के कई जिलों में पहले से लॉकडाउन है।मध्‍य प्रदेश और कर्नाटक की सरकारें लॉकडाउन का इशारा कर रही हैै।

kapda dukan 2

क्यों पड़ रहा है बाजार में बुरा असर

kapda vavsaie

लॉकडाउन को लेकर बाजारों में इसलिए बुरा असर पड़ रहा है कि गरीब तबके के लोग होली पर्व को लेकर इसलिए खरीदारी नहीं कर रहे हैं कि अगर रखे हुए पैसे से हम सभी कपड़े या अन्य सामग्री की खरीदारी कर लेते हैं तो लॉकडाउन के समय में हम सभी के बीच भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो जाएगी।उधर स्पष्ट रूप से देखा जाए तो उड़ रही अफवाह से सिवान जिले के विभिन्न बाजारों में बहुत बुरा असर पड़ा हुआ है।सबसे ज्यादा इसका बुरा असर कपड़ा व्यवसायियों पर पड़ा है।विभिन्न बाजारों के दुकानदार सुबह से अपनी दुकान खोल कर पर्व को लेकर आस लगाए बैठे हुए हैं।इसके बावजूद बाजारों में चहल कदमी नहीं होने से उनके बिक्री पर काफी प्रभाव पड़ा है।

क्या कहते हैं दुकानदार

जिले के विभिन्न बाजारों के दुकानदारों का कहना है कि अगर लॉकडाउन से संबंधित सरकार का किसी भी प्रकार का फरमान आता है तो सरकार के आदेश का अनुपालन हम सभी पूर्ण रूप से करेंगे।लेकिन पूर्व से हम सभी कोविड को लेकर दुकानों पर एहतियातन के तौर पर सतर्कता बरत रहे हैं।दुकानों पर आए ग्राहकों को सुझाव के तौर पर मास्क लगाने की नसीहत भी दी जा रही है।