एलईडी से रोशन होंगी निकाय क्षेत्रों की सड़कें-गलियां

0

गोपालगंज: गोपालगंज शहर के साथ ही जिले के सभी चारों नगर निकायों की सड़कों और गलियां में एलईडी लाइटें अपनी रोशनी बिखेरेंगी। एलईडी लगाने के लिए सर्वे का काम पूरा करने के बाद नगर परिषद ने अपनी रिपोर्ट नगर विकास विभाग को भेज दी थी। नगर विकास विभाग से इसकी स्वीकृति भी मिल चुकी है। विधानसभा चुनाव के बाद शहरी क्षेत्र में एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने का काम शुरू हो जाएगा। नगर विकास विभाग ने सूबे के सभी नगर निकायों में एक ही कंपनी को एलईडी लाइट लगाने का काम सौंपा है। जिले में चार नगर निकाय हैं। नगर परिषद, गोपालगंज सहित नगर पंचायत, बरौली, नगर पंचायत, कटेया तथा नगर पंचायत, मीरगंज की सड़कों को रोशन करने के लिए पिछले कई सालों से काम चल रहा था। चारों नगर निकायों में सड़कों के किनारे स्ट्रीट लाईटें लगाई भी गईं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

लेकिन, निकायों की इस योजना पर सवाल उठते रहे। स्ट्रीट लाईटें लगने के कुछ दिनों के बाद खराब होने की शिकायतें भी मिलती रहीं। इसी बीच सितंबर 2017 में नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव ने नगर निकायों में स्ट्रीट लाइट लगाने पर प्रतिबंध लगा दिया। अपने आदेश में उन्होंने नगर निकायों को बताया कि अब एक ही कंपनी सूबे के सभी नगर निकाय क्षेत्रों में एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाएगी। प्रधान सचिव के इस आदेश के बाद जिले के चारों नगर निकायों में भी स्ट्रीट लाइट लगाने का काम ठप हो गया। इसके बाद नगर निकाय विभाग के अगले आदेश का इंतजार होने लगा। फरवरी 2018 को सूबे के सभी नगर निकायों तथा एक कंपनी के बीच एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए एग्रीमेंट किया गया। इस एग्रीमेंट के अनुसार काम शुरू करने से पहले नगर निकायों में कितनी एलईडी लाइटे लगाई जाएंगी, इसका सर्वे कराना था। सर्वे के नाम पर यह योजना लटकी रही।

इसी बीच छह माह पूर्व विभाग के निर्देश के बाद नगर परिषद सहित जिले के चारों नगर निकाय में सर्वे करने के बाद नगर निकायों ने अपनी रिपोर्ट नगर विकास विभाग को सौंप दी। नगर विकास विभाग से इसकी स्वीकृति भी मिल गई। काम शुरू करने की प्रक्रिया शुरू हो रही थी कि इसी बीच विधानसभा चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता लागू हो गई। नगर परिषद के चेयरमैन हरेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि आदर्श चुनाव संहिता लागू हो जाने के कारण एलईडी लाइट लगाने के लिए शुरू हुई प्रक्रिया रोक दी गई है। अब चुनाव के बाद इस योजना पर काम शुरू होगा। काम पूरा होने के बाद शहरी क्षेत्र की सड़कों तथा गलियों में एलईडी लाइटें अपनी रोशनी बिखेरने लगेंगी।