RRB-NTPC: रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव के आश्वासन का असर नहीं, ट्रेन की तीन और बोगियों में लगाई आग

0

पटना: आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा और रिजल्ट में धांधली को लेकर आक्रोशित छात्रों पर रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव के आश्वासन का भी कोई असर नहीं दिखाई दिया है। रेल मंत्री की तरफ से परीक्षा को लेकर कई ऐलान और जांच का आश्वासन देने के बाद भी गया में ट्रेन की तीन बोगियों में आग लगा दी गई। कुछ घंटे पहले भी इसी ट्रेन की बोगियों को आग के हवाले किया गया था। आग लगने के बाद पहुंची पुलिस ने छात्रों को खदेड़ दिया था। दोपहर बाद करीब चार बजे अचानक ट्रेन की तीन और खाली बोगियों में आग लगा दी गई।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

WhatsApp Image 2022 01 26 at 9.32.32 PM

आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा और रिजल्ट में धांधली को लेकर आक्रोशित छात्रों पर रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव के आश्वासन का भी कोई असर नहीं, रेल मंत्री की तरफ से परीक्षा को लेकर कई ऐलान और जांच का आश्वासन देने के बाद भी गया में ट्रेन की तीन बोगियों में आग लगा दी गई।

ezgif.com gif maker 9

इससे पहले बुधवार की सुबह लगातार तीसरे दिन भी अभ्यर्थियों का विरोध प्रदर्शन जारी रहा। डीडीयू रेल मंडल के गया जंक्शन पर बुधवार को गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल काटा। इस दौरान छात्रों ने गया जंक्शन के करीमगंज यार्ड में खड़ी एमटी कोच में आग लगा दी। आग की चपेट में आने से एक कोच जलकर राख हो गया। कोच में लगी आग पर किसी प्रकार काबू पाया गया और छात्रों को खदेड़ा गया।

इसी बीच रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव मीडिया के सामने आए और छात्रों से शांति की अपील की। उन्होंने कहा कि परीक्षा से संबंधित कोई शिकायत नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार और रेलवे बोर्ड इस मुद्दे पर काफी सावधानी से काम कर रहा है। आगजनी की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि ये रेलवे की संपत्ति लोगों की ही संपत्ति है तो उसे सुरक्षित कीजिए।

रेल मंत्री ने कहा कि एनटीपीसी और ग्रुप डी भर्ती में कुल एक लाख 40 हजार वैकेंसी हैं लेकिन आवेदन एक करोड़ से ज्यादा आए हैं। इसलिए बोर्ड अपने स्तर पर कार्य कर रहा है। उन्होंने छात्रों से धैर्य रखने की बात की। वैष्णव ने कहा कि परीक्षा को लेकर कोई शिकायत नहीं है। आगजनी को लेकर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। रेलवे लोगों की ही संपत्ति है इसलिए इसे सुरक्षित रखना सभी का कर्तव्य है।

रेल मंत्री के आश्वासन और अपील का छात्रों पर कोई असर नहीं पड़ा। शाम करीब चार बजे एक बाऱ फिर गया स्टेशन पर खड़ी ट्रेन की तीन बोगियों को आग के हवाले कर दिया गया। आग लगते ही प्रशासनिक अमले में खलबली मच गई। तत्काल अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंची और आग को बुझाया गया। हालांकि प्रशासन और पुलिस के आने से पहले ही आगजनी करने वाले भाग निकले थे। कुछ घंटे के अंतराल पर दो बार आगजनी के बाद बड़ी संख्या में पुलिस को तैनात कर दिया गया है।