सगीर हत्याकांड: लड्डन बिसाती के बाद कुख्यात अतिउल्लाह मिस्कार तथा समीउल्लाह मियां ने पुलिस दबिश के कारण न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

0

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिवान जिले के सराय ओपी क्षेत्र के बाइपास रोड स्थित चमड़ा मंडी समीप एक दिसंबर की सुबह रुपये के बंटवारे के दौरान हुए विवाद में बदमाशों ने मो. सगीर उर्फ भोलू की गोली मारकर हत्या कर दी थी।इस मामले में पुलिस दबिश के कारण कांड में दो आरोपितों ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सिवान के न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। हालांकि अभी भी हत्याकांड के चार नामजद आरोपित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।उधर लगातार हो रही पुलिस छापामारी के कारण कांड के अन्य नामजद आरोपी भूमिगत हो गए हैं।लेकिन पुलिस दावा कर रही है कि बहुत हीं जल्द इन आरोपितों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

पुलिस दिन-रात सभी आरोपियों के घर छापेमारी कर रही है,लेकिन सभी आरोपित शहर छोड़कर फरार हैं।इस मामले में सराय ओपी प्रभारी तनवीर आलम ने बताया कि पुलिस दबिश के कारण हत्याकांड के नामजद आरोपी पचरुखी थाना क्षेत्र के हरदियां गांव निवासी समीउल्लाह मियां एवं कुख्यात अपराधकर्मी मिस्कार टोली निवासी अतिउल्लाह मिस्कार ने आत्मसमर्पण किया है। सराय ओपी प्रभारी तनवीर आलम ने बताया कि अतिउल्लाह पर पूर्व में कई हत्या समेत लूट के कई संगीन मामले दर्ज हैं और सभी मामले न्यायालय में लंबित है।जो जिला का कुख्यात अपराधीकर्मी है।

बतादें कि मृत सगीर के पिता सह महाराजगंज थाना क्षेत्र के पुरानी बाजार महाराजगंज निवासी मो. सलीम के फर्द बयान पर सात लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है।नामजद प्राथमिकी में फिरोज आलम उर्फ लड्डन बिसाती,पचरुखी थाना क्षेत्र के हरदियां गांव निवासी समीउल्लाह मियां, मिस्कार टोली निवासी अतिउल्लाह मिस्कार, इरशाद, अतिउल्लाह का भाई रेयाज मिस्कार, अतिउल्लाह का भतीजा मेराज एवं शौकत शामिल है। सातों नामजद में से एक फिरोज आलम उर्फ लड्डन बिसाती को पुलिस ने हत्या के दिन ही गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया था।