सारण: सो रहे बेटे को जगाने गई मां तो मिली लाश, किसी ने धारदार हथियार से गोद-गोदकर दी थी हत्या

0

छपरा:  जिले में एक दलित युवक की हत्या का मामला सामने आ रहा है। मकेर थाना क्षेत्र के चकिया गांव में अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार से गोद-गोद कर एक युवक को मौत के घाट उतार डाला। युवक का नाम वीरेंद्र राम है। यह घटना सोमवार की रात की है। परिजनों को इसकी जानकारी मंगलवार की सुबह में तब हुई, जब उसकी मां जगाने के लिए गई। बताया जाता है कि चकिया गांव निवासी राजकुमार राम का 20 वर्षीय पुत्र वीरेंद्र राम रात में खाना खाकर अपने घर के बाहर पलानी में सो गया, जिसमें गाय भी बंधी हुई थी। सुबह में उसकी मां वीरेंद्र को जगाने के लिए गई तो, उसे मृत देखकर रोने-बिलखने लगी। रोने की आवाज सुनकर परिवार के अन्य सदस्य भी पहुंचे और वहां कोहराम मच गया। देखते ही देखते काफी संख्या में ग्रामीण जुट गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

हत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस

घटना की सूचना पाकर मौके पर पुलिस भी पहुंच गई है। तीन भाई और चार बहनों में सबसे छोटा वीरेंद्र राम पिकअप वैन चलाने का काम करता था। उसकी चार में से तीन बहनों की शादी हो चुकी है, जबकि तीन में से दो भाइयों की शादी हो चुकी है। वीरेंद्र तथा उसकी एक बहन की शादी होनी बाकी है। उसके शरीर पर धारदार हथियार से सात आठ स्थानों पर गंभीर वार किए गए हैं। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने उसके पास से ईयर फोन बरामद की है, लेकिन उसका मोबाइल भी गायब है। हत्या के कारणों तथा हत्यारों के बारे में अभी पता नहीं चला है। फिलहाल पुलिस ने इसकी छानबीन शुरू कर दी है। इस घटना के कारण चकिया गांव के ग्रामीणों में भय का माहौल बना हुआ है। लोगों में पुलिस प्रशासन के प्रति काफी आक्रोश है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। घटनास्थल पर हंगामे की स्थिति बनी हुई है।