रिजवान हत्याकांड में ओसामा को तलाश रही सऊदी पुलिस

0
saudi police

परवेज अख्तर/सिवान :- सऊदी अरब पुलिस ने मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के खालिसपुर निवासी फखरु जोहा के बड़े पुत्र रिजवान आलम की निर्मम हत्या कांड में सऊदी की पुलिस ने अपनी सक्रियता दिखाते हुए कांड के मुख्य आरोपित फरार चल रहे ओसामा के पिता को हिरासत में ले लिया है। हिरासत में लेने के बाद ओसामा के पिता से पुलिस पूछताछ कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार ओसामा का पिता अवैध रूप से ढाबा चलाने का काम करता था। इधर हत्या की जानकारी मिलने के बाद रिजवान के परिवार में कोहराम है। बुधवार को रिजवान के घर पर दिलासा देने वालों का तांता लगा था। जदयू के पूर्व जिलाध्यक्ष सह राष्ट्रीय परिषद सदस्य मुतुर्जा अली कैसर ने रिजवान के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी और ढाढ़स बांधा। बता दें कि जिस दिन से रिजवान आलम लापता हुआ था उसी दिन से फॉर्म हाउस का गार्ड भी लापता है। रिजवान आलम के लापता के बाद सऊदी अरब में चाचा कमरुल जोहा के बयान के आधार पर ओसामा को शक के बुनियाद पर नामजद किया गया था। पुलिसिया अनुसंधान में बात धीरे-धीरे खुलती गई और वहां के दो संदिग्धों को उठाया और गहन पूछताछ शुरू कर दी गई। पूछताछ के क्रम में दोनों संदिग्धों ने हत्या की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की और जिस जगह रिजवान के शव को ठिकाना लगाया गया था उस रेगिस्तान से पुलिस ने शव को बरामद की। परिजनों की मानें तो बरामद शव काफी सड़ चुकी है और उसमें से दुर्गंध आ रहे हैं। बता दें कि फरार फॉर्म हाउस के गार्ड फरार ओसामा ही घटना का मुख्य सूत्रधार है जिसकी गिरफ्तारी के लिए वहां की पुलिस ने फरार ओसामा के पिता को उठाया और दबाव पुलिस द्वारा बनाई जा रही है ताकि ओसामा वहां की पुलिस या हुकूमत के समक्ष हाजिर हो सके। परिजनों ने बताया कि फरार ओसामा यमन देश का रहने वाला है। उसके पिता जिनको वहां की पुलिस ने गिरफ्तार किया है वह सऊदी अरब में अवैध रूप से ढाबा चलाते हैं। साथ ही अन्य दो लोगों को पुलिस ने रिजवान हत्याकांड में जिसे गिरफ्तार की है वह यमन देश के ही रहने वाले हैं। बहरहाल चाहे जो हो फिलहाल ओसामा के पिता समेत तीन यमनियों को पुलिस गिरफ्तार कर गहराई से पूछताछ कर रही है ताकि सही तथ्यों का उजागर हो सके और घटना का पर्दाफाश किया जा सके कि आखिर भारतीय रिजवान आलम की हत्या के पीछे कौन सा राज है। आखिर इस भारतीय नागरिक की हत्या कैसे और क्यों हुई वहां की पुलिस तह तक जाना चाहती है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

kaisar

इंडिया से नहीं पहुंचा कागजात, शव पड़ा है पोस्टमार्टम घर में

मृतक रिजवान आलम का शव इंडिया से कागजात नहीं पहुंचने के अभाव में सऊदी अरब के पोस्टमार्टम हाउस में पड़ा हुआ है, क्योंकि सऊदी अरब के हुकूमत के अनुसार जब तक भारत से मृतक के परिजनों द्वारा फाइनल कागजात नहीं आते हैं तब तक वहां की हुकूमत उसका अंतिम संस्कार नहीं कर सकती है।

सदमे से नहीं उबर पा रहे हैं रिजवान के परिवार

सऊदी अरब में मारे गए रिजवान आलम का परिवार सदमे से नहीं उबर पा रहा है। आज भी उसके पिता फखरु जोहा व छोटा भाई मो. अब्दुल्लाह के आंखों से आंसू थमने का नाम नहीं ले रहा है। अपने चहेते भाई रिजवान आलम के याद में उसका छोटा भाई बिलख रहा है।[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]