राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत स्कूली बच्चों ने निकाली प्रभात फेरी, लोगों को किया जागरूक

0
student raily

26 अप्रैल से 3 मई तक अलग-अलग कार्यक्रम, यातायात संबंधित विविध कार्यक्रम विद्यालयों में भी

परवेज अख्तर/सिवान : राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर गुरुवार की सुबह स्कूली बच्चों के द्वारा प्रभात फेरी निकाली गई। इस क्रम में शहर के डीएवी पब्लिक स्कूल एवं जेके कान्वेंट स्कूल के बच्चों एवं शिक्षकों के द्वारा प्रभात फेरी का आयोजन किया गया। प्रभात फेरी शहर के गोपालगंज मोड़ स्थित राजवंशी देवी बालिका उच्च विद्यालय से निकाली गई जो पूरे शहर में घूमते हुए गांधी मैदान में समाप्त हुआ। प्रभात फेरी को सदर एसडीओ अमन समीर ने हरी झंडी दिखा रवाना किया। इस दौरान बच्चों के द्वारा ‘तेज गति-जीवन की क्षति’, ‘आफ्टर व्हिस्की-ड्राइविंग रिश्की’, ‘जो सुरक्षा नियम तोड़ेगा-वह जल्दी दुनिया छोड़ेगा’ जैसे सड़क सुरक्षा से संबंधित नारे लगाए गए। प्रभात फेरी में शामिल बच्चे शहर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण कर लोगों को सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूक किया। इस अवसर पर एमवीआइ राकेश कुमार ने बच्चों को आए दिन सड़क पर बढ़ती दुर्घटनाओं के बारे में बताते हुए कहा कि ड्राइविंग के समय मोबाइल फोन और म्यूजिक सिस्टम का उपयोग नहीं करना चाहिए। शराब का सेवन नहीं कर गाड़ी नहीं चलाना चाहिए। वहीं उन्होंने बताया कि गाड़ी की स्पीड उतनी ही होनी चाहिए जितनी में हम नियंत्रण कर सकें। साथ ही उन्होंने सीट बेल्ट लगाने, हेलमेट पहनने, ट्रैफिक सिग्नल का पालन करने आदि जैसे सलाह दिया। प्रभात फेरी गोपालगंज मोड़, जेपी चौक, बबुनिया मोड़, अस्पताल मोड़ होते हुए गांधी मैदान पहुंचा जहां एमवीआइ राकेश कुमार ने छात्रों को सड़क सुरक्षा संबंधी शपथ दिलाया। मौके पर डीपीओ एसएसए समर बहादुर सिंह, प्रवर्तन अवर निरीक्षक अनीश कुमार समेत विद्यालयों के शिक्षक सहित स्कूल के दर्जनों बच्चे मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि 23 अप्रैल से 30 अप्रैल तक पूरे देश में 29वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जा रहा है। इसके लिए जिला प्रशासन ने 26 अप्रैल से तीन मई तक विविध कार्यक्रम आयोजित किए है। 27 अप्रैल को शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों में स्कूलों एवं महाविद्यालयों में जिला प्रसासन द्वारा प्रकाशित हैंडबील वितरित किया जाएगा। 28 अप्रैल को वाद-विवाद प्रतियोगिता एवं सड़कों पर लगे बैनर पोस्टर हटाया जाएगा जिससे चालकों के मन विचलित होता है। 29 अप्रैल को नुक्कड़ नाटक, 30 अप्रैल को विशेष दल द्वारा सघन जांच अभियान, 1 मई को पथ निर्माण से जुड़े सभी विभागों का कार्यक्रम, 2 मई को सभी वाहन डीलरों के साथ बैठक एवं 3 मई को सेमिनार आयोजित कर समापन किया जाएगा। इसके अलावा विद्यालयों में 26 से 30 तक विभिन्न प्रतियोगिता सड़क सुरक्षा संबंधित रखा गया है। इसमे वाद-विवाद प्रतियोगिता, पेंटिंग प्रतियोगिता, चेतना सभा में शिक्षकों द्वारा सड़क सुरक्षा पर परिचर्चा, निजी विद्यालयों के संचालकों के साथ बैठक आयोजित की गई है।

student

Loading...