अस्पताल से जेल भेजा गया बंदी का गर्दन काटने वाला अपराधी

0
kaidi

परवेज अख्तर/सिवान : मंडल कारा से इलाज के लिए लाया गया हत्यारोपित भरत कुमार को सदर अस्पताल के डीएस डॉ. एम के आलम ने छुट्टी कर पुन जेल भेजने की इजाजत दे दी है। इजाजत मिलते ही सुरक्षा कर्मियों ने उसे रविवार को कड़ी सुरक्षा के बीच जेल लेकर चले गए। वरीय पदाधिकारियों के आदेश पर उसे पुन: जेल शिफ्ट किया गया। बता दें कि कुख्यात भरत ठाकुर नगर थाना क्षेत्र के नया बाजार बैलहट्टा पोखरा मोहल्ला निवासी राजकुमार के अबोध बच्चा राहुल कुमार के अपहरण कर निर्मम हत्या के आरोप में  जेल में बंद था। इसके बाद उसने जेल में ही एक अन्य बंदी सद्दाम जो शराब मामले में जेल में बंद था उसपर जानलेवा हमला करते हुए ब्लेड से वार किया था। हत्या मामले में जमानत मिलने के बाद वह जैसे ही बाहर आया उसे स्थानीय पुलिस ने जेल गेट से ही बंदी पर जानलेवा हमले के मामले में फिर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। उक्त घटना 10 जुलाई की थी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal
कुख्यात भरत कुमार
कुख्यात भरत कुमार

घटना को अंजाम देने के बाद एवं प्राथमिकी दर्ज होने के बाद 11 जुलाई को कुख्यात भरत कुमार के पेट में दर्द की शिकायत मिली। दर्द की शिकायत पर मंडल कारा के कर्मियों ने इलाज हेतु सदर अस्पताल में भर्ती कराया जहां चिकित्सकों ने उसके लिवर पलट जाने को लेकर पीएमसीएच रेफर कर दिया तो उसी दिन आनन-फानन में उसे पटना ले जाया गया जहां 12 जुलाई को पीएमसीएच के चिकित्सकों ने आॅपरेशन किया। आॅपरेशन के बाद पुन: कुख्यात को लाकर सदर अस्पताल के पुरुष वार्ड में 23 जुलाई को शिफ्ट कर दिया गया। जहां उस समय से इसका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा था और रविवार को सदर अस्पताल से छुट्टी कर दी गई। जहां उसे उसके सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मी कड़ी सुरक्षा के बीच मंडल कारा लेकर लौट गए । बता दें कि नया बाजार निवासी भरत कुमार के विरुद्ध स्थानीय थाना में पूर्व में भी कई संगीन मामले दर्ज हैं।