भगवानपुर में आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम के तहत महिलाओं का सात दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम तहत बुधवार को भगवानपुर प्रखंड मुख्यालय स्थित कृषि विज्ञान केन्द्र में 34 बालिकाओं महिलाओं का सिलाई कटाई का सात दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न हुआ. समापन कार्यक्रम में  मुख्यअतिथि जिला पार्षद सुशील कुमार डब्ल्यू व विशिष्ट अतिथि थानाध्यक्ष विपिन कुमार ने प्रशिक्षण प्राप्त बालिकाओं के बीच प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र वितरण किया. इस मौके पर केवीके के वरिष्ठ वैज्ञानिक सह अध्यक्ष डॉ. अनुराधा रंजन कुमारी ने बताया कि भारत को मजबूती प्रदान करने के लिए महिलाओं को अलग अलग क्षेत्रों में प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाने का काम केवीके के द्वारा किया जा रहा है.उन्होंने ने कहा कि महिलाओं को सुखी जीवन व्यतित करने के लिए आर्थिक रूप से  आत्मनिर्भर होना होगा. इसके लिए महिलाओं में नई तकनीक का ज्ञान होना जरूरी है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

मुख्यातिथि सुशील कुमार डब्ल्यू ने कहा महिलाए किसी से कम नहीं है. प्रशिक्षण प्राप्त युवतियां अपने काम में तनमन धन से लग जाए.तभी उनका विकास होगा जब महिलाये स्वालम्बी होगी तभी देश तरक्की करेगा.विशिष्ट अतिथि थानाध्यक्ष ने सम्बोधित करते हुए कहा कि पढ़ाई का कोई अंत नहीं होता है. हमेशा पढ़ते रहना चाहिए. ट्रेनर बेबी कुमारी द्वारा प्रशिक्षण में शामिल युवतियों को महिला सिलाई कटाई के अलावा सिलाई मशीन कि रिपेयरिंग का प्रशिक्षण दिया गया . इस अवसर पर कृषि वैज्ञानिक डॉ. वरुण,डॉ. एस के मंडल,कृषि अभियंता कृष्ण बहादुर क्षेत्री ने भी संबोधित किया. प्रशिक्षण में शामिल युवतियों में रागनी कुमारी, चंदा कुमारी, सिंधु कुमारी, सुमित्रा कुमारी, सोनी कुमारी, हेमा खातून, रिया कुमारी, सुमन खातून, रॉबिन खातून, ज्योति कुमारी, श्वेता कुमारी, प्रियंका कुमारी, सोनी खातून, अमृता कुमारी सहित सभी को प्रमाण पत्र दिया गया.