बाढ़ के बाद एस एच-90 बनी मौत देने वाली सड़क, दर्जनों लोग घायल

0

छपरा : मशरक महम्मदपुर छपरा एस एच-90 पर मशरक थाना क्षेत्र के चैनपुर गांव के पास मशरक महाराजगंज रेलवे ओवरब्रिज के पास बाढ़ के पानी से क्षतिग्रस्त सड़क पर जान जोखिम में डालकर पैदल समेत छोटे बड़े वाहन आ जा रहें हैं। जिसमें प्रतिदिन दर्जनों पैदल या मोटरसाइकिल सवार गिरकर घायल हो रहें हैं वही कुछ दिनों पहले ही दो दिनों के अंतराल में तीन ट्रक बाढ़ के पानी में डूबे सड़क पर अंदाजा गड़बड़ा जाने जाने से पलट गये थे जिसमें चालक खलासी घायल भी हुए थे।वही पहली बार आयी बाढ़ से क्षतिग्रस्त सड़क का निर्माण कराया जाता तब तक फिर दूसरी बार बाढ़ का पानी सड़क पर चढ़ गया जिससे लोगों को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

अब सड़क पर पानी कम हो जाने पर लोगों ने जान जोखिम में डालकर आना जाना शुरू कर दिया है। सड़क पर ईट गिराकर मरम्मत करने पर अब क्षतिग्रस्त ईट से दर्जनों लोग गिरकर घायल हो रहें हैं। मौके पर उप प्रमुख साहेब हुसैन उर्फ टुनटुन ने कहा कि दो दो बार आयी बाढ़ से प्रखंड क्षेत्र में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा,आम जनता घरों को छोड़कर ऊंचे स्थानों पर शरण लेने को मजबूर हो गयी थी। बाढ़ ने तों प्रखंड क्षेत्र के अधिकांश सड़कों तोड़ कर क्षतिग्रस्त कर दिया जिसमें कुछ की मरम्मत हुई पर कुछ वैसे ही बनी हुई है।

मशरक प्रखंड उप प्रमुख साहेब हुसैन उर्फ टुनटुन, मुखिया संघ अध्यक्ष व पूर्वी मुखिया प्रतिनिधि अमर सिंह, बहरौली मुखिया अजीत सिंह, मुखिया प्रत्याशी चन्द्रशेखर सिंह, समाजसेवी कुंदन सिंह, पश्चिमी सरपंच बिनोद प्रसाद, पूर्व उप प्रमुख नवलेश सिंह ने जिलाधिकारी सारण से मांग किया कि एस एच-90 को मरम्मत कराकर चलने लायक बनाया जाए जिससे लोगों को सुरक्षित आने जाने सड़क मिल सके।