सिसवन: पटना से आई फोरेंसिक टीम ने की आदित्य हत्या मामले में जांच

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के सिसवन थाना क्षेत्र के बघौना गांव में राजेश कुमार सिंह के पांच वर्षीय पुत्र आदित्य की हत्या के मामले में मुजफ्फरपुर से फोरेंसिक साइंस लेबोरेट्री (एफएसएल) की टीम मंगलवार की रात बघौना पहुंच कर जांच की। टीम ने जहां आदित्य का शव मिला था उस घर में पहुंचकर घटनास्थल की गहन छानबीन की।वहीं स्थानीय थानाध्यक्ष कुमार वैभव से मामले में जानकारी ली। तीन सदस्यीय फोरेंसिक टीम में सहायक निदेशक स्वतंत्र कुमार के नेतृत्व में वैज्ञानिक ओमनाथम शर्मा एवं अजय कुमार शामिल थे। बुधवार की दोपहर तक चली जांच में टीम ने संदिग्ध धनंजय सिंह व संजय सिंह के घरों को भी खंगाला। बताते चलें कि स्थानीय थाना क्षेत्र के बघौना गांव के निवासी राजेश कुमार सिंह के पांच वर्षीय आदित्य कुमार को सोमवार को अगवा कर लिया था। मंगलवार की दोपहर उसका शव गांव के ही एक अ‌र्द्धनिर्मित घर में मिला।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

डॉग स्क्वॉयड व फोरेंसिक टीम को मिले महत्वपूर्ण सुराग

फोरेंसिक टीम के सदस्यों ने घटनास्थल से एक ताबीज बरामद की, जिसे अपने साथ ले गई। घटना के निशानदेही पर टीम ने जगह-जगह जांच की। गेहूं, सरसों की खेत एवं आसपास के संदिग्ध घरों में भी टीम ने जांच की। इसके पूर्व मंगलवार की रात डॉग स्क्वॉयडल टीम भी घटना की जांच की, लेकिन कुछ खास हाथ नहीं लगा।

पकड़े गए व्यक्ति को ग्रामीणों ने पुलिस को सौंपा

आदित्य की हत्या की घटना के बाद ग्रामीणों ने घटना में शामिल संदिग्ध गांव के ही खगेंद्र सिंह को पकड़ लिया तथा जमकर पिटाई कर दी। उसके बाद ग्रामीणों ने उसे मंगलवार की देर रात पुलिस के हवाले कर दिया। थानाध्यक्ष कुमार वैभव ने बताया कि खगेंद्र सिंह से घटना के संबंध में सघन पूछताछ की जा रही है।

मजिस्ट्रेट सहित पुलिस कर रही कैंप

हत्या के बाद गांव में दो गुटों में काफी तनाव है। तनाव को देखते हुए वहां पुलिस लगातार कैंप कर रही है तथा वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है। हालांकि फिलहाल मामला शांत है, लेकिन ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।