सिसवन: बखरी मेले में दूसरे दिन भी उमड़ी भारी भीड़

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के सिसवन प्रखंड के बखरी संत मेले के दूसरे दिन शुक्रवार को भी मेलार्थियों का जमघट रहा. पहले दिन के मुकाबले दूसरे दिन बड़ी तादाद में लोग बखरी पहुंचकर मेला का आनंद लिया जैसे-जैसे शाम ढलती गयी, लोगों का उत्साह परवान चढ़ने लगा. बड़ी संख्या में महिला, पुरुष और बच्चे बखरी के आनंद बाग में जगन्नाथ दास व सुंदर बाग में भगवान दास की समाधि के ऊपर बने भव्य मंदिर मे पूजा अर्चना कर मन्नतें मांगी तथा मठ के वर्तमान महंत राजबल्लभ दास उर्फ जंगली बाबा से आशीर्वाद लिया. इधर पूजा पाठ के बाद श्रद्धालु मेला में पहुंच कर खरीदारी की. मेले में दूसरे दिन भी रौनक बरकरार रहने से व्यापारी उत्साहित रहे. मेले में सबसे ज्यादा भीड़ खाने-पीने के स्टॉल में देखने को मिला. यहां चाइनीज फूड से लेकर मुगलाई परोठा तक मिल रहे थे, लेकिन बच्चे हो बड़े सबको मोमो खूब भा रहा रहा था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

मनचलों पर चला पुलिस का डंडा

बखरी मेला को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर स्थानीय प्रशासन जुटी हुइ है. मेले कि पहली रात बखरी पुल के समीप पर्याप्त रोशनी नहीं होने का करण मेले के दौरान मनचलों की जमावड़ा पुल पर लग रही थी. जैसे ही पुल पर मनचलों की जमवाड़ा होने की खबर पुलिस को मिली मैके पर पहुंच पुलिस ने डंडा चला कर मनचलों की भीड़ को पुल व अन्य जगहों से खदेड़ा.

झूला पर लगाया रोक

स्थानीय प्रशासन ने गुरुवार से चल रहे बखरी मेले में मनोरंजन संबंधित झुले पर रोक लगा दिया है. बतादें कि बखरी मठ परिसर मे दो वर्षो बाद इस बार मेला सजा है. इसमें बच्चों के लिये झूला व चर्खी लगा हुआ है. मेला के पहले दिन रात को पहुंची प्रशासनिक अधिकारियों ने इसपर रोक लगा दिया. हालांकि मेले में अन्य खरीद बिक्री यथावत जारी रहा. स्थानीय बीड़ओ सुरज कुमार सिंह के अनुसार संबंधित विभाग से झूला संचालकों ने अनुमति नहीं ली है. सीओ सतीश कुमार ने बताया कि प्रशासन ने सुरक्षा कारणों से झूला बंद रखने का निर्णय लिया.