सिवान: नम आंखों से दी गई मां को विदाई

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के विभिन्न प्रखंडों में दुर्गा पूजा एवं दशहरा के समापन के बाद गुरुवार को मां दुर्गा समेत अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाओं का विसर्जन नजदीक के नदी व तालाबों में किया गया। इसके पूर्व पूजा स्थल वैदिक मंत्रोंच्चारण के साथ हवन, पूजा, आरती आदि कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस मौके पर महिलाओं ने मां को खोइंचा भर अगले साल आने का आमंत्रण भी किया गया। मौके पर लोगों के बीच प्रसाद का भी वितरण किया गया। जय माता के उद्घोष से पूरा वातावरण गूंज उठा। इसके बाद युवा मां दुर्गा समेत अन्य-देवी देवताओं की प्रतिमाओं को ट्रैक्टर, ट्राली, ठेला आदि पर रख भक्ति गीतों के साथ झूमते तथा मां का जयकार लगाते हुए घाटों पर पहुंच विसर्जन किया। सुरक्षा की दृष्टिकोण से पुलिस प्रशासन भी गश्त कर रही थी। महाराजगंज शहर के नखास चौंक स्थित बड़ी दुर्गा, राजेंद्र चौंक, फुलेना शहीद स्मारक,पसनौली, पकवा इनार पंडाल में स्थापित मां दुर्गा समेत अन्य देवी देवताओं की मूर्ति का विसर्जन पूरे विधि विधान से किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

मौके पर काफी संख्या में हाथी घोड़े, ऊंट, बैंडबाजा शामिल थे। वहीं नवयुवक अपनी अपनी हाथों में पताका लिए जय अंबे जय अंबे उद्घोष के साथ आगे बढ़ रहे थे। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से जगह-जगह पुलिस बल की तैनाती की गई थी। भगवानपुर हाट मां दुर्गा समेत अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। सोंधानी स्थित तालाब में सोंधानी बाजार की प्रतिमा का विसर्जन किया गया, जबकि ब्रह्मस्थान बाजार में रखी मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन ब्रह्मस्थान स्थित तालाब में किया गया। वहीं भगवानपुर, रामपुर मोड़, थाना मोड़, माघर, चक्रवृद्धि बाजार, हसनपुरा, चोरौली आदि गांवों में विसर्जन कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके पूर्व रघुनाथपुर प्रखंड मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में पंडालों में स्थापित मां दुर्गा समेत अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाओं का विसर्जन बुधवार को नजदीक के सरयू नदी घाट पर किया गया। मौके पर बैंडबाजा एवं हाथी-घोड़े के साथ जुलूस निकाला गया।

प्रखंड के डमनपुरा, राजपुर, आदमपुर दुदहा, करसर, चकरी, संठी सहित अन्य गांव में श्रद्धालुओं ने मां को अगले साल आने के निमंत्रण के साथ नम आंखों से विदाई दी। मौके पर मुरलीधरन मिश्रा, विजय कुमार सोनी, धर्मेंद्र कुमार, लक्ष्मीकांत प्रसाद, रामनाथ राम, जगमोहन राम, अरुप कुमार गांगुली, संदीप कुमार गुप्ता, टुनटुन पांडेय, देवेंद्र चौरसिया, मुकेश कुमार सोनी, राकेश कुमार सोनी, बिट्टू सोनी, आदित्य मिश्रा आदि शामिल थे। वहीं आंदर प्रखंड के पतार एवं पचबेनिया गांव के ग्रामीणों द्वारा गांजे बाजे के साथ मां की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। पतार एवं कशिला पचबेनिया घाट पर धूमधाम से मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। इसके अलावा गोरेयाकोठी, बड़हरिया, गुठनी, सिसवन आदि प्रखंडों में मां दुर्गा समेत अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमा का विसर्जन गाजे बाजे के साथ किया गया।