सिवान: बढ़ते साइबर क्राइम को रोकने के लिए पुलिस को दें सूचना

0
  • साइबर क्राइम पर परिचर्चा का आयोजन
  • आईपीएस अधिकारी को किया सम्मानित

गोरेयाकोठी/बसंतपुर प्रखंड के सूरजपुरा गांव के पूर्व मुखिया डॉ. प्रभुनाथ शर्मा के आवास पर साइबर क्राइम जागरूकता पर चर्चा की गई। जिसमें क्षेत्र में बढ़ते साइबर क्राइम पर चिंता व्यक्त की गई। अपने पैतृक गांव वाजिदपुर आए आगरा जीआरपी के एसपी मो. मुश्ताक ने सोशल मीडिया के माध्यम से आम जनता को बढ़ते साइबर क्राइम के संबंध में चर्चा करते हुए बताया कि झारखंड राज्य का जामताड़ा जिले पूरे देश में साइबर क्राइम का अड्डा बन गया है। यहां के युवाओं द्वारा मोबाइल के माध्यम से लोगों को फोन करके बैंक डिटेल्स मांग कर खाते से रुपया उड़ा ले लेने का कार्य किया जाता हैं। उन्होंने बताया कि लोगों को अनजान नंबर से आए फोन पर अपने बैंक खाते का डिटेल्स नहीं देना चाहिए। उन्होंने बढ़ती छिनतई, लड़कियों के साथ हो रहे अपराध पर भी चर्चा की।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

उन्होंने बताया कि इस तरह की घटनाओं को लोग परेशानी समझ कर नजरअंदाज कर देते हैं या छुपा लेते हैं। जिससे समस्या का समाधान नहीं हो पाता है। लोगों को चाहिए कि उसे शीघ्र स्थानीय पुलिस को सूचना दें। ताकि घटना के अनुसार अपराधियों पर पुलिस की निगाह जा सके और उन्हें दंडित किया जा सके। पूर्व मुखिया डॉ. प्रभुनाथ शर्मा ने वरिष्ठ आईपीएस मो. मुश्ताक व उनके पिता मो. अजहरुद्दीन को फूल माला व शाल देकर सम्मानित किया। चर्चा में शामिल लोगों में राजद नेता मो. मंसूर आलम, पूर्व मुखिया नंदू राय, पुष्पेंद्र कुमार शर्मा, राम नरेश शर्मा, रियाज अहमद, मो. अख्तर, हरि किशोर शर्मा, ध्रुव नाथ राय, अब्दुल रहमान थे।