सिवान: स्कूल खुलने से बच्चों के चेहरे पर लौटी रौनक

0

परवेज अख्तर/सिवान: कोरोना के एक पूरे कठिन दौर के बाद जीरादेई प्रखंड समेत समीपवर्ती क्षेत्र के सभी हाई स्कूल खुलने से उनमें रौनक लौट आई है.जीरादेई, बलईपुर, संजलपुर, नरेन्द्रपुर, हसुऑ व तितरा सहित सभी संकुलाधीन हाई स्कूल के कक्षा नौवीं व दसवीं के खुलने से अभिभावकों के साथ छात्र-छात्राओं में भी काफी खुशी देखी गई. शनिवार को खुले स्कूलों की पड़ताल करने पर स्कूलों में सरकार द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार ही पठन-पाठन का कार्य शुरू कराया गया.पहले दिन स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति कम देखी गई. ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति लगभग 60 प्रतिशत से भी कम रही.स्कूल के अंदर प्रवेश करने पर सभी वर्गकक्षों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए छह फीट की दूरी पर छात्र-छात्राओं को बैठाया गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

उत्क्रमित मध्य विद्यालय बढ़ेया के प्रधानाध्यापक रामाशंकर बैठा ने बताया कि बच्चों को स्कूल आने से पहले और जाने के बाद विद्यालय को सेनेटाइज किया गया है. वहीं बलईपुर संकुल के पूर्व संकुल समन्वयक प्रकाश कुमार ने बताया कि वर्ग कक्ष में प्रवेश करने से पहले बच्चों को साबुन से हाथ धूलाया गया व हाथ सैनिटाइज व मास्क पहनाकर अंदर जाने की अनुमति दी गई. गया वहीं उत्क्रमित हाई स्कूल चकरा के प्रधानाध्यापक विकास कुमार दत्ता का कहना है कि हम बच्चों की सुरक्षा को लेकर गंभीर हैं. उन्हें संक्रमण से बचने को लेकर हर एक बिदु को अमल किया जा रहा है. बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ उनकी सुरक्षा भी जरूरी है.वहीं अभिभावकों ने कहा कि हम विद्यालय परिवार के निर्देशों का पूरी तरह से पालन करेंगे.संक्रमण से बचाव में विद्यार्थी, अभिभावक और शिक्षकों के बीच समन्वय का होना बेहद जरूरी है. मौके पर शिक्षक शैलेश कुमार, अनूप कुमार मिश्रा, मानवेंद्र कुमार, रंजीत कुमार श्रीवास्तव, अमित कुमार, संध्या गुप्ता आदि उपस्थित थे.