सिवान: आठवें चरण के तहत सिसवन में 53.73 व रघुनाथपुर में 44.93 प्रतिशत मतदान

0

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिवान जिले के दो प्रखंड सिसवन एवं रघुनाथपुर में आठवें चरण के तहत त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान बुधवार की सुबह सात बजे से शुरू होकर शाम पांच बजे तक शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो गया। जिला प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार सिसवन प्रखंड में जहां 53.73 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया, वहीं रघुनाथपुर प्रखंड में 44.93 प्रतिशत मतदान हुआ। पिछले सात चरणों में जिस तरह से महिला मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर अपने मत का प्रयोग किया है, उसी तरह बुधवार को भी दोनों प्रखंडों में महिलाएं अपनी ताकत दिखाते हुए वोटिंग में पुरुष मतदाताओं आगे रही। जानकारी के अनुसार सिसवन में जहां 53.73 प्रतिशत महिला व 49 प्रतिशत पुरुष मतदाताओं ने मतदान किया, वहीं रघुनाथपुर में अपनी भागीदारी दिखाते हुए 42.99 प्रतिशत महिला व 44.93 प्रतिशत पुरुष मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

मतदान को ले मतदाताओं में दिखा उत्साह

WhatsApp Image 2021 11 24 at 7.52.39 PM

गांव की सरकार का गठन करने को ले मतदान हेतु मतदाताओं में काफी उत्साह देखा गया। मतदाता पहचान पत्र के साथ सुबह से ही अपने बूथों पर पहुंच कतार में खड़े हो गए और अपनी बारी आने पर मनपसंद प्रत्याशी को चुनने के लिए मतदान किया। ज्ञात हो कि दोनों प्रखंडों में जिला पार्षद समेत मुखिया, सरपंच, बीडीसी, वार्ड सदस्य, पंच के कुल 833 पदों के लिए 2914 प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे, जिनके भाग्य का फैसला 535 बूथों पर मतदाताओं ने किया और अब सभी के परिणाम 26 नवंबर को जारी होंगे। वहीं जिला प्रशासन द्वारा पंचायत चुनाव को ले दोनों प्रखंडों में कुल 2616 कर्मी लगाए गए थे। शांति व्यवस्था को ले विभिन्न बूथों पर काफी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी। पदाधिकारियों की टीम देर शाम तक विभिन्न बूथों का जायजा लेती रही।

26 नवंबर को होगा प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

जिले के सिसवन प्रखंड के 13 पंचायतों में जिला परिषद, मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य एवं पंच पद के लिए कुल 833 पद के लिए 1489 प्रत्याशी तथा रघुनाथपुर प्रखंड के 16 पंचायतों में 388 पद के लिए 1425 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। जिनके भाग्य ईवीएम व मतपेटी में बंद हो चुका है। इनके भाग्य का पिटारा 26 नवंबर को मतगणना के बाद खुलेगा। जिला परिषद, मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य का मतदान ईवीएम तथा सरपंच व पंच पद का मतदान बैलेट पेपर के माध्यम से हुआ।सिसवन के 13 पंचायतों में हुए चुनाव में दो जिला परिषद पद के लिए 13 प्रत्याशी, 13 मुखिया पद के लिए 182 प्रत्याशी, 13 सरपंच पद के लिए 89 प्रत्याशी, 22 बीडीसी पद के लिए 86 प्रत्याशी, 199 वार्ड सदस्य के लिए 803 प्रत्याशी एवं 199 पंच पद के लिए 343 प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे जबकि रघुनाथपुर प्रखंड में 16 पंचायतों में हुए चुनाव के लिए दो जिला परिषद पद के लिए नौ प्रत्याशी, 16 मुखिया पद के लिए 114 प्रत्याशी, 16 सरपंच पद के लिए 103 प्रत्यााी, 22 बीडीसी पद के लिए 136 प्रत्याशी, 216 वार्ड सदस्य पद के लिए 813 प्रत्याशी तथा पंच के लिए 116 पद के लिए 249 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं।

जानकारी के अनुसार वार्ड सदस्य एवं पंच पद के लिए दोनों के 220 पद हैं। इसमें चार वार्ड सदस्य निर्विरोध निर्वाचित किए गए इसलिए वार्ड सदस्य के 216 पद चुनाव हुआ जबकि 220 पंच पद में 90 निर्विरोध निर्वाचित किए गए तथा 14 रिक्त रह गया है। इसलिए पंच पद के लिए 116 पद ही चुनाव हुआ है। इन सभी प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 26 नवंबर को होगा।

देर रात तक ईवीएम व मतपेटी जमा करते रहे कर्मी

सिसवन एवं रघुनाथपुर प्रखंड में विभिन्न पदों के लिए हुए मतदान के बाद शहर स्थित जिला शिक्षक प्रशिक्षण केंद्र (डायट) वज्रगृह में ईवीएम, मतपेटी जमा करने का सिलसिला देर रात्रि तक चलता रहा। मतदान कर्मी देर रात तक अपना ईवीएम एवं मतपेटी संबंधित पदाधिकारियों के समक्ष जमा करते नजर आए। जिला उपनिर्वाचन पदाधिकारी अनिल कुमार राय ने बताया कि सिसवन तथा रघुनाथपुर प्रखंड का ईवीएम व मतपेटी डायट में बने वज्रगृह में जमा किया जाएगा। इस दौरान सुरक्षा बल की भी तैनाती की गई थी। ज्ञात हो कि यहां 26 नवंबर की सुबह आठ बजे से मतगणना की जाएगी। इसकी भी तैयारी कर ली गई है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here