सिवान: डेढ़ साल बाद महाराजगंज-मशरक रूट पर चली ट्रेन

0
  • ट्रेन के संचालन के बाद रूट पर विरान पड़े स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं के साथ ही चहल-पहल बढ़ जाएगी
  • ट्रेन छपरा, मशरक, महाराजगंज, सीवान होते थावे जाएगी
  • थावे करीब छह घंटे में 128 किलोमीटर की दूरी तय करेगी
  • 09 बजकर 05 मिनट सुबह में महाराजगंज पहुंचेगी स्पेशल 05163 नंबर की यात्री ट्रेन
  • 04 बजकर 15 मिनट शाम में थावे जंक्शन से छपरा के लिए खुलेगी स्पेशल 06154 ट्रेन

परवेज अख्तर/सिवान: डेढ़ साल बाद सीवान-थावे-मशरक- छपरा रूट पर यात्री ट्रेन का बुधवार से संचालन शुरू हुआ। महाराजगंज स्टेशन पर बीजेपी सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल तो सीवान जंक्शन पर सांसद कविता सिंह ने यात्री ट्रेन को हरी झंडी दिखा आगे के लिए रवाना किया। ट्रेन के परिचालन शुरू होने से स्टेशन के आसपास के गांव के लोगों में खुशी का माहौल है। इस ट्रेन के संचालन के बाद रूट पर विरान पड़े स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं के साथ ही चहल-पहल बढ़ जाएगी। इस रूट पर ट्रेन के संचालन नहीं होने से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। ट्रेन छपरा, मशरक, महाराजगंज, सीवान होते हुए थावे करीब छह घंटे में 128 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। इस बीच कुल 28 स्टेशन होंगे। रेलवे की ओर से मिली जानकारी के अनुसार 05163 स्पेशल यात्री ट्रेन छपरा कचहरी से सुबह 05 बजे चलेगी, मशरक होते हुए 08.13 बजे महाराजगंज, 09. 05 बजे सीवान व 10 बजे थावे स्टेशन पहुंचेगी। जबकि वापसी के क्रम में 05164 स्पेशल ट्रेन थावे जंक्शन से शाम 04: 15 बजे से चलकर 05: 05 बजे सीवान, 05:46 बजे महाराजगंज, 07:28 बजे मशरक व 09: 30 बजे रात को छपरा कचहरी पहुंचेगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

साथ ही सैंकड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा

बताया जाता है कि ट्रेन के इस रूट पर सैंकड़ों ऐसी दुकानें हैं, जहां यात्रियों की सुविधाओं से जुड़ा सामान मिलता है। इतना ही नहीं इन स्टेशनों के आसपास कई ठेले खमोचे वाले भी सामान बेचकर अपनी घर गृहस्थी चलाते हैं। लेकिन ट्रेनों का परिचालन बंद होने से इन दूकानों पर भी ताला जड़ दिया गया था। एक बार फिर ट्रेन का परिचालन शुरू होने से आसपास के लोगों को रोजगार मिलेगा।

करीब डेढ़ साल से बंद था ट्रेनों का परिचालन

मिली जानकारी के अनुसार वैश्विक महामारी कोविड-19 संक्रमण के बाद यात्री सुरक्षा को लेकर सभी यात्री ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था। धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने के बाद कई रूटों पर कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए स्पेशल यात्री ट्रेनों का संचालन तो शुरू किया लेकिन महाराजगंज-मशरक रूट पर अबतक किसी ट्रेन का संचालन नहीं किया जा सका था। करीब डेढ़ साल बाद इस रूट पर बुधवार को ट्रेन का परिचालन शुरू किया गया है।